UIDAI ने दी जानकारी :नहीं बनेंगे आधार कार्ड पहले जैसे बदल गए नियम, जानिए आप पर क्या पड़ेगा असर

 आधार कार्ड से जुड़ी एक बड़ी खबर है. दरअसल, भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने बच्चों का आधार बनवाने की प्रक्रिया अब बदल दी है. यूआईडीएआई ने कहा कि बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र या अस्पताल से डिस्चार्ज की स्लिप और माता-पिता में से किसी एक के आधार से बच्चे के बाल आधार (Baal Aadhaar Card New Rule) के लिए आवेदन किया जा सकेगा.

आपको बता दें कि बाल आधार, आधार कार्ड का एक नीले रंग का वेरिएंट है, जो 5 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए जारी (Baal Aadhaar Card Benefits) किया जाता है. लेकिन अब नए नियम के तहत पांच साल से कम उम्र के बच्चों के लिए किसी बायोमेट्रिक डिटेल की आवश्यकता नहीं होगी. 

जरूरी दस्तावेजों में पासपोर्ट, पैन कार्ड, वोटर आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस, नरेगा जॉब कार्ड आदि शामिल हैं. वहीं पते के प्रमाण के रूप में इस्तेमाल किए जा सकने वाले दस्तावेजों में पासपोर्ट, बैंक स्टेटमेंट / पासबुक, पोस्ट ऑफिस अकाउंट स्टेटमेंट, राशन कार्ड आदि शामिल हैं.

इस प्रक्रिया के बाद माता-पिता को उनके आवेदन के प्रोसेस को ट्रैक करने के लिए एक एकनोलेजमेंट नंबर मिलेगा. उसके बाद 60 दिनों के भीतर रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक एसएमएस मिलेगा. बाल आधार कार्ड 90 दिनों के भीतर आपके पास पहुंच जाएगा.