बिहार में लगेगा उद्योगों का जाल, नौकरी के लिए नहीं जाना होगा बाहर, 2,18,303 करोड़ का बजट पास

बिहार के डिप्टी CM सह वित्त मंत्री तार किशोर प्रसाद ने वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए 2 लाख 18 हजार 303 करोड़ रुपए का अनुमानित बजट पेश किया है। बजट में उद्योग लगाने की संभावना देख रहे लोग निराश हुए हैं।

उद्यमिता विकास के लिए सरकार ने मात्र 200 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है। महिला उद्यमिता के विकास के लिए भी 200 करोड़ रुपए दिए गए हैं।

युवा उद्यमियों को 5 लाख रुपए तक का अनुदान और 5 लाख रुपए का अधिकतम ऋण एक प्रतिशत ब्याज पर मिलेगा। प्रसाद ने इस वित्तीय वर्ष में बिहार सरकार की कुल आय 2 लाख 18 हजार 502 करोड़ रहने की बात कही है।

यह भी पढ़ें  Sahara India : जल्द मिलेगा डूबा हुआ पैसा वापस, जानिए क्या हुआ क्यों नहीं मिल रहा पैसा?

राजकोषीय घाटा 3 फीसदी रहने का अनुमान जताया है।भास्कर ने पहले ही बता दिया था कि इस बार बजट का आकार पिछले साल के आसपास ही रहेगा।

कोरोना महामारी के कारण राज्य की आर्थिक गतिविधियां प्रभावित हुई हैं।इसका असर भी दिखा। बिहार का इस बार का बजट पिछले वर्ष के मुकाबले 3.03 फीसदी ही बढ़ा।