गंगा विलास क्रूज का ठहराव बेगुसराय के सिमरिया घाट पर नहीं हो सका सभी लोग सुबह से कर रहे थे इंतजार

पहले लोग तिन मार्ग से चलते थे पहला सड़क मार्ग से दूसरा पटरी के रास्ते ट्रेन के माध्यम से और तीसरा हवाई मार्ग से लेकिन जैसे-जैसे दुनिया डेवलप करती है चीजे भी समय के अनुसार बढती है | अब लोग पानी के रास्ते भी अपने सफ़र का आनंद ले सकेंगे |

दोस्तों एक विलास क्रूज है जो पानी में चलता है जिसके जरिये घुमने वाले तीर्थ यात्री अपने सफ़र का आनन्द लेते है लेकिन इस कबर में हम आपको यह बताने वालेहाई की यह विलास क्रूज उत्तर प्रदेश के वाराणसी से डिब्रूगढ़ तक जाती है | और बिच में कई जगह इसका ठहराव भी है |

यही में से एक ठहराव बिहार के बेगुसराय जिले के सिमरिया घाट पर भी था जहाँ बुधवार को विलास क्रूज को रोकना था लेकिन वहां पर विलास क्रूज नहीं रुका और हजारों की संख्या में लोग मीडिया देखते रह गई और विलास क्रूज वहां से निकल गई | आपको बता डी की बेगुसराय के सिमरिया वह धरती है जहाँ से राष्ट्रीय कवी रामधारी सिंह दिनकर का यह धरती है |

विलास क्रूज नहीं रुकने के बाद लोग जिला प्रशाशन और राज्य सरकार को इसके लिए दोषी मान रहे है | और लोगों का कहना है की विलास क्रूज का नहीं रुकना रामधारी सिंह का अपमान है यह बेगुसराय की अपमान है और या सारा राजनितिक के चक्कर में होता है ऐसा वहां उपस्थित लोगों का कहना है |