दिल्ली सरकार ने महिलाओं के रोजगार के लिए खोले नए द्वार, सभी महिलाओं को Rs. 4800 सहायता राशी

दिल्ली सरकार दिल्ली की महिलाओ के उत्थान के लिए समय-समय पर नई योजना लाती रहती है. हाल ही में दिल्ली सरकार ने कमर्शियल टैक्सी ड्राईवर में महिलाओं की भागीदारी को बढ़ावा देने के लिए एक नई योजना शुरू की है . मुख्यमंत्री श्री अरविन्द केजरीवाल ने बताया की दिल्ली की महिलाओं को कमर्शियल ड्राइविंग ट्रेनिंग के लिए 50 प्रतिशत की राशी सहायता के रूप में दी जाएगी.

दिल्ली में जो महिला टैक्सी ड्राईवर का काम करना चाहती है उन्हें प्रोफेशनल ड्राइविंग स्किल के लिए वाहन चलाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है. ABP के रिपोर्ट के मुताबिक प्रत्येक महिला को ड्राइविंग ट्रेनिंग के लिए लगभग 4800 रूपये की सहायता राशी दी जाएगी. कमर्शियल ड्राइविंग ट्रेनिंग दिल्ली के बुराड़ी , लोनी और सराय काले खां में दिया जायेगा.

यह ड्राइविंग प्रशिक्षण केंद्र दिल्ली सरकार के अंतर्गत है. दिल्ली सरकार यह भी सुनिश्चित करेगी की जो महिला ट्रेनिंग ले चुकी है उन्हें ड्राइविंग की नौकरी भी जल्द से जल्द लग जाए . इसके लिए बड़ी बड़ी कैब कंपनी से लगातार बात जारी है. ताकि प्राइवेट कमर्शियल वाहन चलाने वाली कंपनी अपने बेड़े में इन महिलाओं को भी शामिल कर ले.

दिल्ली की महिला कई माध्यमो से आर्थिक स्वतंत्रता को अपनाने के लिए सभी क्षेत्रों के कामों में अपनी दिलचस्पी जाहिर करी है. टैक्सी ड्राईवर के रूप में भी अपने काम को पूरी इमानदारी से करती नजर आ रही है. दिल्ली सरकार की इलेक्ट्रिक वाहन निति 2020 के द्वारा अब चार पहिया वाहन का ट्रेंड बदल रहा है. आने वाले दिनों में दिल्ली में सिर्फ EV (Electric Vehicle) ही दिखेंगे.