बिहार में अगर आप करना चाहते है मछली पालन तो आपको सरकार देगी अनुदान, जाने-

बेरोजगारी अभी इतना बढ़ गया है कि सभी लोग को सरकारी नौकरी मिल पाना मुश्किल होता जा रहा है | इसीलिए अब लोग चाहते है कि अपने ही गाँव शहर में कहीं अच्छा रोजगार मिल जाए अगर आप भी ऐसा सोच रहे है तो आपके लिए ये खबर बेहद खास है |

जी हाँ दोस्तों हम बात कर रहे है मछली पालन के बारे में अगर आप बिहार में रहकर मछली पालन करना चाहते हैं और तो यह खबर आपके लिए है आपको बता दूं कि बिहार में रहकर अगर आप मछली पालन करना चाहते हैं तो इसके लिए लाभुकों का चयन किया जाएगा और उन्हें सरकार के तरफ से अनुदान राशि भी दी जाएगी।

आपको बता दूँ कि तालाबों की जीणोद्धार के लिए भी बिहार सरकार किसानों को अनुदान देगी बिहार में मछली उत्पादन बढ़ावा देने के लिए प्रति किसान को जागरूक करने का उद्देश्य इस योजना की स्वीकृति पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग ने दे दी है।

वही परियोजना पर अगर एक नजर डालें तो जीणोद्धार के लिए प्रति हेक्टेयर 6 लाख खर्च निर्धारित है जहां पर बताया जा रहा है कि 40% अति पिछड़ा वर्ग अनुसूचित जाति और जनजाति के लिए 30% अनुदान और अन्य वर्गों के लिए भी अनुदान दिए जाएंगे। अनुदान दो किस्तों में दी जाएगी। इसके अलावा बाकी राशि आपको खुद ऋण के द्वारा या खुद ही खर्च करने पड़ेंगे।

वहीं अगर एक आंकड़ों पर नजर डालें तो अभी राज में 38000 के आसपास ही तालाब है। वही सरकारी और निजी तालाबों को दोनों को जोड़ा जाए तो इसकी संख्या करीब करीब 98000 है इसमें से 70000 सरकारी तालाब है कोई निजी क्षेत्रों में तालाबों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है।