बिहार : अब लोगों को दरभंगा एयरपोर्ट जाने में नहीं होगी परेशानी खुल गया नया रास्ता सीधे पहुचेंगे टर्मिनल पर

बिहार : बिहार के दरभंगा एयरपोर्ट से यात्रा करने वाले पैसेंजरों को सीधे टर्मिनल तक पहुंचने के लिये डेढ़ साल का इंतजार करना पड़ा. और आखिरकार इंतजार की घड़ी अब समाप्त हो गई | जी हाँ दोस्तों अब आपको यह जानकर काफी ख़ुशी होगी कि वहां तक पहुंचने को लेकर बनाये गये कनेक्टिंग ब्रिज का निर्माण पूरा होने के बाद अब यात्रियों व परिजनों को टर्मिनल तक पहुंचने में सुरक्षा जांच के झंझट से मुक्ति मिल जायेगी. देर शाम तक बिहार के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने पुल का लोकार्पण किया है म| यात्रिओ को मिल रही बेहतर सुविधा |

बरसात के मौसम में अधिक होती थी दिक्कतें :

इससे पहले यात्रियों को सुरक्षा के मद्देनजर मेन गेट से प्रवेश के दौरान जांच की प्रक्रिया से गुजरना पड़ता था. इसमें पैसेंजरों को कई घंटों तक इंतजार करना पड़ता था. खासकर बच्चे, बुजुर्ग व महिला के साथ यात्रा करने वाले लोगों को काफी परेशानी होती थी. कड़ी धूप में इंतजार करना पैसेंजरों के लिये आसान नहीं था. अब यह असुविधा कनेक्टिंग ब्रीच बनने दूर हो गयी है.

यह भी पढ़ें  जुलाई महीने से पीएमसीएच जाना होगा आसान राजधानी पटना के गंगा पथ पर बने एक्सप्रेस-वे का शुरू होगा परिचालन

इसके अलावा भारी सामानों को लेकर टर्मिनल तक पहुंचने के लिये करीब 300 मीटर की पैदल दूरी भी अब तय नहीं करनी पड़ेगी. अब यात्री अपने वाहन सहित टर्मिनल के नजदीक तक पहुंच सकेंगे. वैसे अभी टर्मिनल परिसर में वाहन सहित प्रवेश को लेकर निर्णय नहीं लिया गया है. बता दें कि आठ नवम्बर 2020 को दरभंगा एयरपोर्ट से उड़ान सेवा की शुरुआत की गयी थी.

यात्रियों की सुविधा के लिये पुल निर्माण विभाग की ओर से 21 मीटर लंबा व 12 मीटर चौड़ा कनेक्टिंग ब्रिज का निर्माण कराया गया है. दोनों तरफ पैदल चलने के लिये 1.5 मीटर चौड़ा पाथ-वे भी बनाया गया है. पूल को दो लेन में बांटा गया है. आने- जाने वालों यात्रियों को इससे सुविधा होगी. पुल के निर्माण में 3.8 करोड़ लागत आने की बात कही गयी है. पुल निर्माण का काम पांच माह में पूरा हुआ है. फरवरी माह में काम प्रारंभ हुआ था.

इधर, पथ निर्माण विभाग मंत्री नितिन नवीन ने रविवार को 11201 लाख रुपये की लागत से विभिन्न क्षेत्रों में कुल 64 किलोमीटर लंबी 11 नवनिर्मित सड़क का उद्घाटन किया. वहीं 2788 लाख 77 हजार रुपये की लागत से 9.50 किलोमीटर लंबी सड़क का शिलान्यास, पथ निर्माण विभाग दरभंगा प्रमंडल परिसर में किया.

यह भी पढ़ें  बिहार में एक बार फिर से घटी सरिया की कीमत रेट में आई भारी गिरावट, जानिये क्या है ताजा भाव?

पथ प्रमंडल द्वारा निर्मित जिन 11 सड़कों का उदघाटन किया गया उनमें हायाघाट विधानसभा क्षेत्र के बहेड़ी प्रखंड के आनंदपुर- सिधौली- मनोरथा- खर्रा होते हुए साधोपुर बांसडीह तक 3151.46 लाख रुपये की लागत से 9.928 किलोमीटर लंबी सड़क है. इसी क्षेत्र में 509.59 लाख रुपये की लागत से 3.950 किलोमीटर लंबी हायाघाट-अशोक पेपर मिल पथ का निर्माण किया गया है.

तारालाही-सिमरी पथ बनेगा
बहादुरपुर एवं केवटी विधानसभा क्षेत्र को जोड़ने वाली 2987.63 लाख रूपये की लागत से 11.712 किलोमीटर लंबी तारालाही-सिमरी पथ, केवटी एवं दरभंगा शहरी विधानसभा क्षेत्र को जोड़ने वाली 285.81 लाख रुपये से 5.16 किलोमीटर लंबी शहबाजपुर- भलुका- करहटिया पथ, ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र के एनएच 57 गौसाघाट से धोईघाट तक 438.78 लाख रुपये की लागत से 3.50 सड़क, तथा केवटी विधानसभा क्षेत्र में 505. 91 लाख रुपये की लागत से 9.065 किलोमीटर लंबी हाजीपुर -छतवन पथ व ननौरा-मोहम्मदपुर 474.32 लाख रुपये से 6. 85 किलोमीटर लंबी पथ शामिल हैं.

यह भी पढ़ें  बिहार में बहुत जल्द बनेगा 10 से अधिक ब्रिज बिछेगा सेतुओ का जाल, लोगों की समस्या होगी दूर

मंत्री ने किया पथ का उदघाटन
जाले विधानसभा क्षेत्र में 1185.12 लाखों रुपये की लागत से 3.23 किलोमीटर लंबी कमतौल-अहिल्या स्थान सड़क, कमतौल-जोगियारा पथ से एसएस 27 बजरंग चौक तक 630.714 लाख रूपये की लागत से 2.85 किलोमीटर लंबी पथ का भी उदघाटन मंत्री ने किया.

मंत्री ने कहा कि इस परियोजना का कार्य युद्धस्तर पर पूर्ण किया गया है। कार्य पूर्ण करने की निर्धारित तिथि से पूर्व मात्र चार महीने में ही कार्य समाप्त कर इसे आम लोगों को समर्पित किया गया। इस कारण संवेदक को पथ निर्माण मंत्री ने समारोह में सम्मानित भी किया।

उद्घाटन समारोह में श्रम संसाधन मंत्री जीवेश कुमार मिश्र, सांसद गोपाल जी ठाकुर, नगर विधायक संजय सरावगी, हायाघाट विधायक डॉ. रामचंद्र प्रसाद, भाजपा की प्रदेश मंत्री डॉ. धर्मशीला गुप्ता के अलावा मीना झा, उप मेयर भरत सहनी आदि भी थे।