बिहार में बहुत जल्द बनेगा 10 से अधिक ब्रिज बिछेगा सेतुओ का जाल, लोगों की समस्या होगी दूर

दोस्तों बिहार को अगर एक जिला से दुसरे जिला में सड़क को जोड़ना पड़ेगा तो उसमे सेतु का बनना बहुत जरूरी होता है | क्योंकि बिहार में नदी की कोई कमी नहीं है हर तरफ नदी है | इसीलिए अब अगर रोड का निर्माण कहीं करना होता है तो पूल का निर्माण करना आवश्यक होता है | आपको बता दूँ कि इसी को देखते हुए केंद्र सरकार और राज्य सरकार के सहयोग से बिहार में कई शानदार महासेतु का निर्माण किया जा रहा है।

बिहार में में बिछेगा सेतुओ का जाल जी हाँ अकेले सिर्फ गंगा नदी पर बनेंगे 14 पूल वह कई ब्रिज का भी निर्माण अभी किए जा रहे हैं। आने वाले कुछ वर्षों में आपको गंगा नदी पर 14 पुल आपको दिखने वाला है। इसमें से पांच पुल पर आवागमन अभी हालांकि शुरू हो चुका है और 6 पुल का निर्माण अभी चल रहा है। वही इन्हीं छह पुल का निर्माण पूरा होने की बात करे तो इन ब्रिज का निर्माण 2025 से 2026 तक किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें  खुशखबरी बिहार बना विकाश का मिशाल 9 km से भी बड़ा बिहार में बनेगा 6 लेन पूल रचेगा इतिहास

वही आने वाले समय में आपको गंगा नदी पर गांधी सेतु के समांतर नया पुलिस के साथ-साथ साहिबगंज से लेकर मनिहार के बीच में देश का सबसे बड़ा पुल का भी निर्माण किया जाना है। इसके अलावा जेपी सेतु के समांतर एक और शानदार पुल का निर्माण किया जाना है। भागलपुर से विक्रमशिला सेतु के समांतर भी गंगा नदी पर पुल का निर्माण किया जाएगा।

इसके अलावा आपको बता दूं कि कच्ची दरगाह से लेकर बिदुपुर और सुल्तानगंज से लेकर अगवानी घाट के बीच में पुल का निर्माण चल रहा है। ताजपुर से बख्तियारपुर के बीच पुल का निर्माण अभी शुरू है। इसके अलावा आरा बबुरा सेडोरीगंज छपरा के बिच इस ब्रिज का निर्माण भी किया जाना है।

यह भी पढ़ें  बिहार के युवाओं को रोजगार के लिए नहीं जाना पड़ेगा दुसरे शहर, शुरू हुआ 100 एकड़ में ये बड़े फैक्ट्री मिलेगा रोजगार

इसके साथ साथ अगर कोसी नदी की बात करे तो अभी कोसी नदी पर भी कई ब्रिज का निर्माण किया जा रहा है जहाँ पर बताया जा रहा है की अभी कोसी नदी पर मधुबनी जिले में भेजा और सुपौल जिले में बकौर पुल का निर्माण हो रहा है। फुलौत पुल और मानसी एवं सहरसा के बीच पुल भी शामिल है इसके साथ साथ कोसी नदी पर एक और ब्रिज का निर्माण होना है जिसमे कोसी  गंडौल, बीपी मंडल सेतु, वहीं सोन नदी पर रोहतास जिले के पंडुका में बनेगा। नवगछिया में विजयघाट पुल और कुरसेला का पुल शामिल है।

    1. बख्तियारपुर- ताजपुर फोर लेन सड़क पुल – गंगा- 5. 52 किलोमीटर- – 1602 करोड़
    2. आरा बबुरा-डोरीगंज छपरा- 4. 50 किलोमीटर- 676 करोड़ खर्च
    3. मनिहारी-साहेबगंज फोर लेन सड़क पुल -गंगा- 6 किलोमीटर – 1906 करोड़
    4. कच्ची दरगाह-बिदुपुर छह लेन सड़क पुल-गंगा – 9. 75 किलोमीटर- 5000 करोड़
    5. सुल्तानगंज-अगुवानी फोर लेन सड़क पुल -गंगा- 3. 16 किलोमीटर
यह भी पढ़ें  पटना मेट्रो का बदला प्लान : अब PMCH के नीचे से गुजरेगी रेलवे लाइन pmch के मरीज को मिलेगी सुविधा !