बिहार फिर से हुआ मालामाल सोना के बाद मिला ये खजाना सर्वे में ये बात आई सामने जानिये….

दोस्तों बिहार दुसरे राज्य के अपेक्षा काफी गरीब राज्य है जैसे दिल्ली मुम्बई हैदराबाद चेन्नई पश्चिम बंगाल वहीँ बिहार के पड़ोसी राज्य बाबा नगरी झारखंड में खनिज पदार्थ की भरमार है | वहीँ बिहार में उतना खनिज संपदा भारी मात्र में उपलब्ध नहीं है |

कुछ अम्हिने पहले आपलोगों को एक खबर सुनने को मिकला होगा की बिहार जमुई जिले में खनिज का भण्डार मिला है। आपको बता दूं कि पिछले महीने में जमुई में सोना का भंडार मिला था इसी बीच अब बिहार में एक बार फिर से बड़ा खजाना मिला है।

दरअसल, बिहार के जमुई जिला में देश का सबसे बड़ा सोन भंडार मिला था। वही एक बार फिर से बिहार के जमुई में ही बड़ा खजाना मिला है। दरअसल आपको बता दूं कि केंद्र सरकार ने इस पर संसद में जानकारी भी दी थी, और इसी जिला में सिकंदरा प्रखंड में लोहे का बड़ा भंडार मिला है। आपको बता दूँ की इस सोना का भण्डार मिलने से जमुई में ख़ुशी की लहार है।

यह भी पढ़ें  दरभंगा से जालंधर और अमृतसर के साथ कई ट्रेनें रद्द

लोहे के बड़ा भंडार मिले के बाद एक बार फिर से सर्वे का काम शुरू से तेज कर दिया गया है। आपको बता दूं कि इसकी जानकारी करीब-करीब आज से 20 साल पहले पता चला जब की मंजोष गांव के पहाड़ी इलाके में बच्चे खेल रहे थे इसी दौरान चुंबक से एक पत्थर चिपक गया। उधर आपको बता दूं कि सिकंदरा प्रखंड में मंजोष पंचायत में जूलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया यानी कि जीएसआई की टीम तेजी से सैंपल लेने में अब तेज़ हो चुकी है।

हालांकि, बिहार के इस एकमात्र लोहा का खान वाले जगह पर सर्वे कर रहे जीएसआई के अधिकारी खुलकर कुछ भी बताने से बच रहे हैं. लेकिन, इस टीम में कार्य कर रहे कर्मियों से यह जानकारी मिली है कि जियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया के कोलकाता जोन की टीम के द्वारा यहां लोहे के सैंपल लिए जा रहे हैं. इसकी जांच धनबाद में करवाई जाएगी.

यह भी पढ़ें  बिहार : बुआ-भतीजा एक साथ पढ़ते थे कोचिंग चढ़ गया दोनों को प्यार का बुखार, रिश्ता हुआ शर्मसार