अच्छी खबर : मात्र ढाई घंटे में पंहुच जायेंगे नेपाल, पार करना होगा 30 से ऊपर सुरंग जानिये क्या होगा रूट

दोस्तों बीते दिन 2 तारीख को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउवा के राजमंदी से भारत से नेपाल के बीच ट्रेन का परिचालन शुरू हो गया | बता दे कि इमं दोनों देश के बीच करीब 8 साल तक सेवा बंद रही आठ साल के बाद नेपाल और भारत के बीच रेल का सेवा चालू हुआ |

भारत से नेपाल के लिए रेल मार्ग सेवा 34.9 किलोमीटर की है | वहीँ जयनगर-कुर्था ट्रेन 140 किलोमीटर की रफ्तार से चलेगी और 1100 यात्री इस ट्रेन में एक बार में सफर कर सकेंगे। बता दे कि सबसे खास और अहम बात यह है कि इस ट्रेन सेवा का लाभ सिर्फ और सिर्फ भारत और नेपाल देश के लोग ही ले सकेंगे इसके अलावा किसी देश के नागरिक को यह सेवा नहीं दी जायेगी |

यह भी पढ़ें  बड़ी खबर : देश की पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस शुरू, 6 घंटे में पूरा होगा लखनऊ से दिल्ली का सफर

बहुत जल्द चालू हो जाएगा अररिया जिले के के जोगबनी से जयनगर वाला रूट :

वहीं, भारत और नेपाल के बीच पश्चिम चम्पारण के रक्सौल से लेकर काठमांडू तक रेल लाइन का निर्माण किया जाएगा। इसके लिए दो चरणों का सर्वे पूरा हो चुका है और अब तीसरे चरण के सर्वे का काम चल रहा है। मिली जानकारी के अनुसार बिहार के रक्सौल से नेपाल की राजधानी काठमांडू तक रेल लाइन परियोजना में कुल 13 स्टेशन होंगे। इनमें रक्सौल, बीरगंज, बगही, पिपरा, धूमरवाना, काकड़ी, चंद्रपुर, धीयाल, शिखरपुर, सिसनेरी, सथिकेल और काठमांडू है।