अजूबा : 11वीं कक्षा के छात्र ने बनाया नींद भगाने वाला चश्मा, आंख लगते ही ड्राइवर को अलर्ट करके जगा देगा यह चश्मा

नींद की वजह से बहुत चीजे गलत और उल्टा-पुल्टा हो जाता है कई बार तो लोगों को अपनी जान भी देनी पर जाती है जी हाँ दोस्तों आपलोगों को पता ही होगा अगर चलती हुयी गाड़ी में ड्राईवर को नींद आये तो उसका उस हालत में जान भी जा सकती है | नींद सही समय पर नहीं आना ये भी आदमी के लिए खतरनाक है | आपको बता दे की इस समस्या की गंभीरता को समझते हुए नवाब सुफियान शेख नाम के किशोर ने एक ऐसा चश्मा बनाया है जिसके पहनने के बाद गाड़ी चलाते वक्त नींद नहीं आएगी और यह चश्मा ड्राईवर को जगाए रखेगा। आईये जानते है इसके बारे में पूरी डिटेल से…

यह भी पढ़ें  बहुत जल्द लांच होने वाला है महिंद्रा का शानदार XUV700 SUV, जानिये क्या होगी कीमत और खासियत

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार गुजरात के सूरत में रहने वाला नवाब सुफियान शेख 11वीं कक्षा का छात्र है। बता दे की इस किशोर ने एक ऐसे चश्मे का ईजाद किया है, जिसे पहनने के बाद अगर कोई कार चलाता है तो उसे नींद नहीं आएगी। नींद आने की स्थिति में आंख लगते ही यह चश्मा ड्राइवर को अलर्ट करके जगा देगा। रोचक तथ्य यह है कि सुफियान ने इस चश्मे का ईजाद किसी पैशन या क्रेज के चलने नहीं किया है बल्कि अपने आस पास मौजूद समस्याओं को समाधान निकालने के चाह में इस चश्मे का निर्माण किया गया है।

यह भी पढ़ें  अब बाइक में पेट्रोल इंजन की जगह बैट्री लगवा रहे हैं लोग! जानें- कितना आता है खर्चा?

यह चश्मा ऐसे करेगा काम :

नवाब सुफियान शेख का कहना है कि इस चश्मे को पहनकर आपको नींद नहीं आएगी। इस चश्मे के लेफ्ट साईड इलेक्ट्रॉनिक डिवाइेज लगाए गए हैं तथा राईट साईड पर इन डिवाइसेज को चलाने के लिए सेल लगाया गया है। इस चश्मे को पहनकर अगर कोई वाहन चलाता है और ड्राइविंग करते समय उसे नींद का झोका आता है, तो इस स्थिति में आंख बंद होते ही चश्मे से अलार्म बजने लगेगा। यह साउंड अलर्ट ड्राइवर के साथ-साथ उसके आस-पास बैठे लोगों को भी सुनाई देगा और सभी सचेत हो जाएंगे।

सिर्फ 900 रुपये में बना चश्मा :

मीडिया रिपोर्ट की माने तो इस खास चश्मे को बनाने में लग भग 3 महीने का समय लगा है और सिर्फ 900 रुपये का खर्च आया है। खास बात यह है की अभी भी इस चश्मे पर काफी काम होना बाकी है और जब यह चश्मा पूरी तरह से बनकर तैयार हो जाएगा तब इसे टेस्ट किया जायेगा। एक बार ​टेस्टिंग कंप​लीट होने के बाद ही इस चश्मे को बाजार में उतारा जाएगा। बता दें कि सुफियान की पहचान वालों में तीन गाड़ियों का एक्सीडेंट हो गया था और इसकी वजह वाहन चालक को नींद का झोका आ जाना था। बस इसी घटना से सुफियान को प्रेरणा मिली तथा उन्होंने यह चश्मा तैयार किया।

यह भी पढ़ें  JIO का धमाका ऑफर : एक दिन में खर्च कर सकते हैं 25GB डेटा जानिये क्या है पूरी प्लान?