खुशखबरी : नए साल में राजधानी पटना को मिलेगा एक और नया बस स्टैंड का सौगात कम होगी जाम की समस्या

नए साल का आगमन हो चूका है | आपको अक्सर देखने या सुनने को मिलता होगा की राजधानी पटना में जाम में फस गए | जाम के कारण गाड़ी छुट गईं यही सब समस्या को देखते हुए बिहार के राजधानी पटना में एक और नया बस स्टैंड बनाने को लेकर बात बनी है इसे लेकर तैयारी शुरू हो गई है। पटना एम्स के पास ही नया बस स्टैंड बनाने की तैयारी की जा रही है। इसके लिए जमीन देख कर निर्धारित कर लिया गया है |और अधिग्रहण की प्रक्रिया चल रही है।

नये बस स्टैंड के तैयार हो जाने के बाद पटना में तीन बस स्टैंड हो जाएंगे और पहले से चल रहे दो स्टैंड पाटलीपुत्र और बांकीपुर, पर यात्रियों का लोड घटेगा। सरकार की इस पहल का स्वागत किया जा रहा है। यहां एक साथ 700 से अधिक बसों को पार्क किया जा सकेगा। बस स्टैंड का विस्तार करने के लिए सरकार द्वारा 17 एकड़ जमीन का अधिग्रहण किया जाएगा। बुडको द्वारा स्टैंड में यात्रियों के लिए सारी सुविधाएं शीघ्र ही शुरू करने का आश्वासन भी दिया गया है।

यह भी पढ़ें  बिहार : रेलवे देगा पढ़े-लिखे युवाओं को रोजगार बिहार के इन 28 स्टेशनों पर मिलेगा बेरोजगारों को रोजगार

यह बस स्टैंड बिहटा एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशन के पास होगा. रेलवे और हवाई जहाज से सफर करने वालों को बस स्टैंड आना आसान हो जाएगा. बिहटा के कन्हौली में सड़क का जंक्शन बनाया जाएगा. जहां तीन ओर से फोरलेन सड़कें आकर मिलेंगी |इसके अलावा इस कैबिनेट बैठक में राज्य के सभी इंजीनियरिंग और पॉलिटेक्निक कॉलेजों में इलेक्ट्रॉनिक नॉलेज नेटवर्क की स्थापना करने की मंजूरी मिली. इसके अंतर्गत सभी कॉलेजों में वाई-फाई की सुविधा उपलब्ध होगी. साथ ही सभी संस्थानों में दो-दो स्मॉर्ट क्लास की स्थापना भी की जाएगी |

जानकरी के अनुसार बिहार के राजधानी पटना में इस तीसरे बस स्टैंड से बक्सर, भभुआ, विक्रमगंज, आरा, पालीगंज, औरंगाबाद, सासाराम समेत कई जिलों के लिए  के बस चलाई जाएंगी। इस स्टैंड के शुरू हो जाने से पाटलिपुत्र बस स्टैंड पर यात्रियों का लोड बहुत कम हो सकेगा। अभी, पाटलिपुत्र बस स्टैंड से हर दिन लगभग 2000 से ज्यादा बसे चलाई जाती हैं।

यह भी पढ़ें  Bihar Board 10th Result 2022 : बिहार बोर्ड ने किया घोषणा कल दोपहर 1 बजे जारी करेगा रिजल्ट, यहाँ कर सकेंगे चेक

एक और बस स्टैंड बन जाने के बाद 400 बसों को वहां शिफ्ट कर दिया जाएगा। इससे यात्रियों की सुविधाएं बढ़ जाएंगी और लोड भी कम हो जाएगा.  यहां से गोरखपुर, लखनऊ, सिलीगुड़ी, जयपुर, सूरत, अहमदाबाद, दिल्ली, वाराणसी, कोलकाता, जैसे स्थानों के लिए यात्रियों को बस सेवा की सुविधा मिलेगी। आइएसबीटी से राज्य पथ परिवहन निगम की बसें खुलेंगी।