काम की खबर : बिहार के 146 आईटीआई में 15 नए कोर्सों को मंजूरी, बच्चे के लिए 4 नए पाठ्यक्रम

काम की बात बिहार के आईटीआई के बच्चो के लिए खास खबर : बिहार के औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में 15 नए पाठ्यक्रम को शामिल होंगे। बता दूँ कि ये वैसे पाठ्यक्रम हैं, जो मौजूदा समय में बाजार की मांग को पूरा करेंगे। इन पाठ्यक्रमों से युवाओं को अधिक से अधिक रोजगार मिलेगा। साथ ही, राज्य की औद्योगिक क्षेत्र की जरूरतों को भी पूरा करेगा। यह बैठक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में सोमवार को हुई राज्य कैबिनेट की बैठक में इन पाठ्यक्रमों के शुरू करने पर विचार विमर्श कर पारित किया गया है |

दरअसल, अब तक आईटीआई में आम तौर पर परम्परागत पाठ्यक्रमों की ही पढ़ाई हो रही है। चूंकि मौजूदा समय में बाजार की जरूरतों में बदलाव हुआ है। इसे देखते हुए श्रम संसाधन विभाग ने आईटीआई के पाठ्यक्रमों में बदलाव करने का निर्णय लिया है। जिन पाठ्यक्रमों को शामिल किया गया है |

यह भी पढ़ें  बिहार के 62 रेलवे गुमटी पर बनेगा ओवरब्रिज उमति पार करते समय नहीं होगी जाम की समस्या

उसमें इलेक्ट्रिशियन में पावर डिस्ट्रीब्यूशन को भी शामिल किया गया है। इसमें बिजली वितरण की बारीकियों के बारे में प्रशिक्षु जानकारी हासिल करेंगे। अभी स्मार्ट खेती से लेकर स्मार्ट सिटी तक की कार्ययोजना पर काम चल रहा है। इसे देखते हुए तय किया गया है कि टेक्निशियन स्मार्ट एग्रीकल्चर और टेक्निशियन स्मार्ट सिटी ट्रेड में भी आईटीआई में प्रशिक्षण होगा। इसी तरह स्मार्ट हेल्थ केयर की भी पढ़ाई होगी।


इसी तरह परम्परागत बिजली के अलावा गैर परम्परागत बिजली पर भी बिहार में काम हो रहा है। खासकर सोलर व पनबिजली के क्षेत्र में काम हो रहे हैं। इसे देखते हुए सोलर टेक्निशियन की पढ़ाई आईटीआई में होगी। अन्य पाठ्यक्रमों में मैकेनिक ऑटोबडी रिपेयर, टेक्निशियन मेकाट्रोनिक्स, टेक्निशियन थ्री डी पेंटिंग और कम्प्यूटर एडेड इम्ब्रायडरी एंड डिजाइनिंग की भी पढ़ाई होगी।

यह भी पढ़ें  बिहार के युवाओं को रोजगार के लिए नहीं जाना पड़ेगा दुसरे शहर, शुरू हुआ 100 एकड़ में ये बड़े फैक्ट्री मिलेगा रोजगार

साभार : hindustan