इस साल फिर से महंगे हो सकते हैं प्रीपेड प्लान जानिये कौन प्लान कितना में मिलेगा अब कितना बढेगा आपके जेब पर खर्च

जी हाँ दोस्तों! जैसा की हम सबको पता है जिओ सहित कई टेलिकॉम कम्पनी ने पिछले साल के आखिरी महीने में अपना रिचार्ज प्लान महंगा कर दिया था | बता दे की एक बार फिर से टेलिकॉम कंपनी वोडाफोन-आइडिया (Vi) के यूजर्स के लिए बुरी खबर है। घाटे में चल रही यह कंपनी इस साल एक बार फिर से अपने प्लान्स की कीमतों में बढ़ोतरी कर सकती है। पीटीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार कंपनी के एक टॉप-लेवल अधिकारी ने कहा कि इस साल टैरिफ को दोबारा महंगा किया जा सकता है, लेकिन यह पिछले साल नवंबर में किए गए टैरिफ हाइक और मार्केट रिएक्शन पर निर्भर करेगा।

यह भी पढ़ें  आ गया Jio का सबसे सस्ता प्लान केवल 8 रूपये में मिलेंगे ये सारी सुविधाए जाने पूरी डिटेल्स...

वोडाफोन-आइडिया के MD और CEO रविंदर टक्कर का कहना है कि लगभग एक महीने की सर्विस वैलिडिटी देने वाले सबसे सस्ते प्लान की कीमत कंपनी ने 99 रुपये तय की है, जो 4G सेवाओं को यूज करने वाले यूजर्स के हिसाब से ज्यादा महंगा नहीं है। टक्कर ने आगे यह भी कहा कि इस साल एक बार फिर से प्लान्स को महंगा किया जा सकता है। 

सब्सक्राइबर बेस के मामले में वोडाफोन-आइडिया एयरटेल और जियो से काफी पीछे है। प्लान्स के महंगे होने के बाद वोडाफोन-आइडिया का सब्सक्राइबर बेस एक साल में 26.98 करोड़ के घटकर 24.72 करोड़ पर आ गया है। टैरिफ महंगे होने के बावजूद भी कंपनी के ARPU यानी प्रति यूजर औसत रेवेन्यू में 5 प्रतिशत की कमी आई है और यह 115 रुपये हो गया है, जो साल 2020-21 की इसी तिमाही में 121 रुपये हुआ करता था।

यह भी पढ़ें  एक रुपये के अंतर पर BSNL से इतना ज्यादा डेटा दे रहा Jio, जानें कौन ज्यादा फायदेमंद जानिये डिटेल्स...

कम्पनी को लागातार हो रहा है घाटा

बड़े घाटे में चल रही वोडाफोन-आइडिया की परेशानी कम होने का नाम नहीं ले रही। पिछले हफ्ते कंपनी ने बताया कि दिसंबर 2021 में खत्म हुई तीसरी तिमाही में कंपनी का कुल घाटा बढ़कर 7,230.9 करोड़ रुपये हो चुका था, जो एक साल पहले की इसी तिमाही में 4,532.1 करोड़ था।