IIT मद्रास के एक स्टूडेंट ने बनाई 30 हज़ार की ई-बाइक, एक बार चार्ज करने पर चलेगी 50 km

हमें चाहे पास जाना हो या दूर, बस बाइक उठाई और निकल पड़ते हैं, लेकिन पेट्रोल के दाम दिनों दिन बढ़ते जा रहे हैं ऐसे में अगर कहीं जाना हो तो पहले तो पेट्रोल की चिंता सताती है। पर अब यह चिंता छोड़ दीजिए क्योंकि अब ऐसी बाइक का भी इनवेंशन हो गया है, जिस पर बैठकर आप कहीं भी जा सकते हैं और आप को पेट्रोल की चिंता करने की भी ज़रूरत नहीं है।

IIT मद्रास के पूर्व छात्र विशाख ससीकुमार (Visakh Sasikumar) ने एक ऐसी ई-बाइक बनाई है, जो एक बार चार्ज करने के बाद यह 50 km तक चलती है और इसकी बैटरी को चार्ज करना उतना ही आसान है जितना कि एक मोबाइल फ़ोन को चार्ज करना। विशाख ससीकुमार ने अपने वेंचर Pi Beam के अंतर्गत यह ई-बाइक लॉन्च की है। 

25 km प्रति घंटा की स्पीड है, बैटरी चार्ज होने में लगेगा फ़ोन चार्ज होने जितना टाइम

इसमें अन्य दो पहिए वाले वाहनों की तरह ही सारी सुविधाएँ और गुण हैं और इसकी अधिकतम स्पीड 25 km प्रति घंटा है। इसके साथ ही, यह बहुत सस्ती है और इसे हर आयु के व्यक्ति सरलता पूर्वक चला सकते हैं।”उन्होंने कहा, “इस ई-बाइक की एक और ख़ास बात यह है कि इसमें उसी पावर सॉकेट का प्रयोग किया गया है, जिसका उपयोग एक स्मार्टफोन में किया जाता है, इसलिए इसकी बैटरी चार्ज होने में भी उतना ही समय लगता है, जितना एक स्मार्टफोन में लगता है।”

इस ई-बाइक को 5-10 km जैसी छोटी दूरियों को तय करने के लिए विकसित किया गया है। उन्होंने कहा कि “50 रुपए के दूध और थोड़ी सब्जियाँ खरीदने के लिए, कार या बाइक पर जाने से पैसे तो बर्बाद होते ही थे, उसके साथ ही पर्यावरण को भी बहुत हानि होती है। इतना ही नहीं, सड़कों में आने जाने में भी परेशानी आती है। उन्होंने बताया, “आज ईंधन से चलने वाले टू व्हीलर का मूल्य करीब 60 हज़ार रुपए होता है। परंतु इस ई-बाइक का मूल्य, ईंधन से चलने वाले उन टू व्हीलर्स की क़ीमत से भी आधा है, यानी सिर्फ़ 30 हज़ार रुपए है।