AddText 07 27 10.45.21

टीवी सीरियल दुनिया की बात करें तो 90 के दशक में दूरदर्शन पर हुए रामायण सीरीयल को लोग आज तक भूला नहीं पाएं हैं. रामायण सीरीयल वाल्मिकी रामायण पर आधारित बनाई गयी थी जिसे इतना ज्यादा प्यार मिला था की जब रामायण लगती थी तब रास्ते सुनसान पड़ जाते थे.

Also read: सोमवार की सुबह सोने की कीमत में हुई बड़ी गिरावट जान लीजिये आपके क्षेत्र में क्या है ताजा भाव पूरी खबर…

रामायण सीरीयल ने लोगों के दिलों में एक अलग जगह बनाई है. रामायण में काम करने वाला हर एक पात्र लोगों को काफी ज्यादा पसंद हैं.

Also read: सफ़र कीजिये वन्दे भारत एक्सप्रेस से बचाएगी आपको पुरे 50 मिनट का समय, इस रूट पर होने जा रही है शुरू

2 6

वैसे आज हम आपको रामायण सीरीयल बनाने वाले रामानंद सागर के बारें में बताएंगे जिन्होंने रामायण सीरीयल बनाकर इतिहास बनाया था.

Also read: खुशखबरी : बिहार में एका-एक इतना रुपया सस्ता हुआ डीजल और पेट्रोल जानिये क्या है ताजा कीमत

5 1

रामानंद सागर का जन्म साल 1917 में लाहौर में हुआ था और तब लाहौर भारत में ही था. रामानंद सागर जी का असली नाम चंद्रमौली चोपड़ा हैं. रामानंद सागर को उनकी नानी ने गोद लिया था और उन्होंने उनका चंद्रमौली नाम बदलकर रामानंद रखा था.

Also read: Mumbai-Howrah Duronto Express : दो दिनों तक रद्द रहेगी ये लम्बी दुरी की ट्रेनें जान लीजिये पूरी बात…

1 8 1024x754 1

जब भारत का विभाजन हुआ तब उनके परिवार का बिजनेस पुरी तरह ठप्प हुआ और रामानंद के पास पढ़ाई करने के लिए भी पैसे नहीं थे. रामानंद ने चपरासी की नौकरी की. फिर साबुन बेचने तक का काम उन्होंने किया और ट्रक क्लिनर का भी काम किया और अपना खर्चा चलाया.

2 6

रामानंद सागर फिर मुंबई आए और उन्होंने एक मुक फिल्म में काम किया. फिर धीरे धीरे रामानंद सागर फिल्मों में बतौर असिस्टेंट डायरेक्टर, राइटर ऐसा काम करते गये और खुद आगें बढ़े.

उनको वैसे ज्यादा पहचान नहीं मिली थी, लेकिन उन्होंने फिर रामायण बनाने का फैसला किया और रामायण सीरीयल ने ऐसा कमाल किया की रामानंद सागर को घर घर में पहचाना जाने लगा और उनकी किस्मत ही बदल गयी.

सोनू मूल रूप से बिहार के समस्तीपुर जिला के रहने वाले है पिछले 4 साल से डिजिटल पत्रकारिता...