मुकेश सहनी बोले- NDA में नहीं सुनी जाती बात, मांझी जी और मुझे सोचने की जरूरत

Bihar Politics: मुकेश सहनी यूपी में 18 जगहों पर फूलन देवी की विशाल प्रतिमा लगाना चाहते थे, लेकिन यूपी सरकार ने ऐसा नहीं होने दिया. बनारस में मुकेश सहनी को सभा करने की भी इजाजत नहीं मिली. इससे नाराज मुकेश सहनी ने बिहार में NDA के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.

पटना. बिहार की सियासत से बड़ी खबर यह है कि विकासशील इंसान पार्टी (VIP) के अध्यक्ष मुकेश सहनी (Mukesh Sahni) ने एनडीए गठबंधन को लेकर अपनी नाराजगी खुलकर जाहिर कर दी है. उन्होंने साफ तौर पर कहा है कि एनडीए (NDA) में हमारी कोई बात सुनी नहीं जाती है और अब वक्त आ गया है कि जीतन राम मांझी (Jeetan Ram Manjhi) और मुझे मिलकर विचार करने की जरूरत है.

बता दें कि मॉनसून सत्र के आगाज के मौके पर बिहार विधानमंडल परिसर में सोमवार को NDA की बैठक में मुकेश सहनी की पार्टी शामिल नहीं हुई थी. विधानसभा के सेंट्रल हाल में सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के नेतृत्व में बैठक आयोजित की गई थी. उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, रेणु देवी, जीतन राम मांझी सहित कई विधायक और विधानपार्षद मौजूद थे, लेकिन एनडीए विधायक दल की बैठक में न तो मुकेश सहनी पहुंचे और न ही विधानसभा में मौजूद होने के बावजूद उनकी पार्टी के कोई विधायक ही मीटिंग में शामिल हुए. मिली जानकारी के अनुसार, मुकेश सहनी बनारस में हुई घटना से नाराज बताए जा रहे हैं.

बनारस में फूलन देवी की प्रतिमा लगाने को लेकर बिहार सरकार के मंत्री मुकेश सहनी के साथ हुई घटना पर बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष संजय जयसवाल ने बयान दिया है. उन्‍होंने कहा कि उत्तर प्रदेश हाई कोर्ट ने प्रदेश में मूर्ति लगाने पर रोक लगाई है. वहां के मुख्यमंत्री को मूर्ति लगाने की इजाज़त नहीं है. सीएम योगी खुद हाई कोर्ट के आदेश का इंतजार कर रहे हैं. उन्होंने कहा की जब मुख्यमंत्री को आज्ञा नहीं मिली तो दूसरे को मूर्ति लगाने का आदेश कहां से मिल जाएगा?

साभार :- news18 bihar