चेतन सकारिया: आईपीएल के नेट गेंदबाज से टीम इंडिया में जगह, पिता और भाई को भी खोया

चेतन सकारिया निजी तौर पर काफी संघर्षों का सामना करते हुए टीम इंडिया तक पहुंचे हैं. 23 साल के इस तेज गेंदबाज ने आईपीएल से पहले अपने भाई को खो दिया था. हाल ही में उनके पिता कोरोना वायरस की चपेट में आकर चल बसे थे. करीब एक साल पहले चेतन आईपीएल में नेट गेंदबाज थे.

. युवा तेज गेंदबाज चेतन सकारिया (Chetan Sakariya) को आईपीएल-2021 के पहले चरण में बेहतर प्रदर्शन का इनाम मिला है. चेतन को श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज के तीसरे और अंतिम मैच से शुक्रवार को अंतरराष्ट्रीय डेब्यू का मौका मिला. चेतन ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL-2021) के 14वें सीजन के पहले हाफ में अपनी गेंदबाजी से काफी प्रभावित किया था. उन्होंने राजस्थान रॉयल्स के लिए 7 मैचों में 7 विकेट झटके.

टीम इंडिया की कमान संभाल रहे शिखर धवन (Shikhar Dhawan)  ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. इस मैच से पांच खिलाड़ियों ने भारत के लिए वनडे डेब्यू किया जिसमें संजू सैमसन (Sanju Samson), नीतीश राणा (Nitish Rana), चेतन सकारिया (Chetan Sakariya), कृष्णप्पा गौतम (K Gowtham) और राहुल चाहर (Rahul Chahar) शामिल हैं.

घरेलू क्रिकेट में सौराष्ट्र के लिए खेलने वाले चेतन पर भारतीय टीम मैनेजमेंट ने भरोसा जताया और उन्हें श्रीलंका दौरे के लिए टीम में शामिल किया गया. अब उन्हें अंतरराष्ट्रीय पदार्पण का भी मौका मिल गया. चेतन निजी तौर पर काफी संघर्षों का सामना करते हुए टीम इंडिया तक पहुंचे हैं.

23 साल के चेतन सकारिया ने आईपीएल से पहले अपने भाई को खो दिया था. उनके भाई ने खुदकुशी की थी. फिर हाल ही में उनके पिता कोरोना वायरस की चपेट में आकर चल बसे थे. सबसे खास बात है कि करीब एक साल पहले वह आईपीएल में नेट गेंदबाज थे लेकिन अपनी प्रतिभा और मेहनत के दम पर वह अब टीम इंडिया के लिए डेब्यू कर चुके हैं.

चेतन सकारिया टी20 स्पेशलिस्ट गेंदबाज माने जाते हैं. सौराष्ट्र के लिए उन्होंने अभी तक 23 मैचों में 35 विकेट झटके हैं. लिस्ट ए में उन्होंने 7 मैचों में 10 विकेट लिए हैं. इसके अलावा 15 फर्स्ट क्लास मैचों में उन्होंने अभी तक अपनी गेंदों पर 41 बल्लेबाजों को पैवेलियन की राह दिखाई है.