जिस ब्लॉक में सफाईकर्मी है पति, वहीं की ब्लॉक प्रमुख बनीं BA पास सोनिया

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में रहने वाली सोनिया बलियाखेड़ी ब्लॉक का चुनाव जीतकर ब्लॉक प्रमुख बन गई हैं। खास बात यह है कि सोनिया के पति सुनील कुमार इसी क्षेत्र में सफाईकर्मी हैं। सुनील ने सपने में भी कभी नहीं सोचा था कि जिस ब्लॉक क्षेत्र में वह रोज सफाई करते हैं, एक दिन उनकी धर्मपत्नी सोनिया वहीं की ब्लॉक प्रमुख बन जाएंगी।

सोनिया का कहना है कि ब्‍लॉक प्रमुख के नाते वह गांवों के विकास के लिए काम करेंगी, लेकिन घर तो पति की तनख्वाह से ही चलता है। उनके पति ने भी निर्णय लिया है कि वह नौकरी करते रहेंगे। प्रमुखी तो पांच साल की है, लेकिन नौकरी पूरे 60 साल की।

यह भी पढ़ें  रेलवे भर्ती : रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा, 1.40 लाख पदों पर चल रही हैं भर्तियां जाने डिटेल्स...

बता दें, नल्हेडा गुर्जर गांव में रहने वाले सुनील कुमार विकासखंड बलियालखेड़ी में सफाई कर्मचारी के पद पर अपने ही गांव में कार्यरत हैं। सुनील की पत्नी सोनिया ने बीए किया है और वह गृहणी हैं।

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में बीडीसी की सीट आरक्षण की वजह से अनुसूचित जाति वर्ग के लिए सुरक्षित हो गई। ग्रामीणों के कहने पर सफाईकर्मी सुनील कुमार ने बीडीसी सदस्य के लिए अपनी पत्नी सोनिया को चुनाव लड़ाया, जिसमें उन्हें जीत हासिल हुई।

ब्लॉक प्रमुख पद भी अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हुआ तो बीजेपी नेता व जिला पंचायत सदस्य मुकेश चौधरी ने पढ़ी लिखी सोनिया को बीजेपी की ओर से प्रमुख पद का प्रत्याशी बनवा दिया। नामांकन करने के साथ ही 26 वर्षीय सोनिया निर्विरोध ब्लॉक प्रमुख निर्वाचित हो गईं।

यह भी पढ़ें  बिजली उपभोक्ता हो जाएं सावधान, नहीं तो प्रीपेड मीटर वालों की लापरवाही आपकी जेब पर पड़ सकती भारी

ब्लॉक प्रमुख बनने के बाद सोनिया ने अपनी इस उपलब्धि का श्रेय पति सुनील कुमार और परिवार को दिया। सोनिया का कहना है कि उनकी प्राथमिका गांवों का विकास है। वह गांवों के विकास के लिए काम करेंगी। वहीं, पति की नौकरी का लेकर कहा कि वह नौकरी करते रहेंगे, क्यों घर तो पति की तनख्वाह से ही चलता है। सुनील ने भी कहा कि वह अपनी नौकरी नहीं छोड़ेंगे।