1625798584131

समस्तीपुर जिले के कल्याणपुर प्रखंड के गोबरसिठ्ठा गांव में बुधवार रात नाव से बारात आयी और शादी के बाद नाव से ही दुल्हन ससुराल के लिए विदा हुई। बता दें कि बागमती की बाढ़ ने गोबरसिठ्ठा गांव को चारों ओर से पानी से घेर रखा है। बुधवार को वारिसनगर के पूरनाही गांव से दूल्हा चंदन कुमार की रामसकल राम की पुत्री काजल से शादी होनी थी।

Also read: Gold-Silver Price Today: गिर गया सोना का भाव तो महंगा हुई चांदी जानिये क्या है गोल्ड-सिल्वर की 10 ग्राम की कीमत

शादी करने के लिए चंदन बैंडबाजे के साथ बारात लेकर आया था। लेकिन गोबरसिठ्ठा में दुल्हन के घर तक जाने के लिए कोई रास्ता नहीं था जिससे दूल्हे व बारातियों को नाव से ही जाना पड़ा। गांव के लोगों ने दूल्हा और बारात में आये लोगों के लिए तीन नाव की व्यवस्था की थी। दरवाजा लगने के बाद बाढ़ के पानी के बीच ही शादी की रस्म अदायगी पूरी की गयी। फिर गुरुवार सुबह दुल्हन को दूल्हे के साथ नाव से ही ससुराल के लिए विदा किया गया।

Also read: खुशखबरी : बिहार में एका-एक इतना रुपया सस्ता हुआ डीजल और पेट्रोल जानिये क्या है ताजा कीमत

कमरगामा गांव में घुसा बागमती के बाढ़ का पानी

बूढ़ी गंडक के जलस्तर में लगातार बढ़ोतरी से बाढ़ का पानी गांवों में पसरता जा रहा है। गुरुवार को बाढ़ का पानी कमरगामा गांव में प्रवेश कर गया। इससे जटमालपुर से कमरगामा गांव जाने वाली सड़क पर आवागमन करने में लोगों को कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। तीरा, मलीकौली, कमरगामा, मोरवाड़ा एवं रामदीरी आदि गांवों में पहले ही बाढ़ का पानी प्रवेश कर चुका था। जिससे प्रभावित लोग तटबंध पर शरण लिए हुए हैं। 

Also read: सोमवार की सुबह सोने की कीमत में हुई बड़ी गिरावट जान लीजिये आपके क्षेत्र में क्या है ताजा भाव पूरी खबर…

Also read: भागलपुर से राजधानी पटना और दिल्ली के लिए सफ़र करना हुआ आसान जान लीजिये समय-सारणी और टाइम टेबल…

सोनू मूल रूप से बिहार के समस्तीपुर जिला के रहने वाले है पिछले 4 साल से डिजिटल पत्रकारिता...