दोस्तों बिहार रोड कनेक्टिविटी के मामले में पिछले कुछ सालों में बहुत तेजी से आगे बढ़ा है वहीँ दोस्तों जिस राज्य का रोड कनेक्टिविटी जितना बेहतर होगा वह राज्य विकाश भी उतनी ही तेजी से करेगी. नए एक्सप्रेसवे बनाकर पड़ोसी राज्यों तक अपनी पहुंच को और बेहतर बनाने की काम की जा रही है.

Also read: बिहार के बक्सर, बेगुसराय, भोजपुर, बांका समेत इन जगहों पर सस्ता हुआ पेट्रोल जानिये आपके क्षेत्रों में कितना घटा भाव…

वहीँ यह फोरलेन प्राथमिक तौर पर राज्य से गुजरने वाले नेशनल हाईवे को 4 लेन में तब्दील किया गया है। दोस्तों वैसे देखा जाए तो बिहार में 43 नेशनल हाईवे हैं, जिनकी लंबाई 4917 किलोमीटर है, वहीँ इसके साथ ही बड़ी संख्या में वाहन चल रहे है.

Also read: अगर आप भी जाने का सोच रहे है बिहार तो 31 मई तक संचालन में रहेगी ये स्पेशल ट्रेन, इन जगहों पर होगी ठहराव, जानिये…

लेकिन आज के इस खबर में हम बात करने वाले है बिहार में बन रहे एक्सप्रेस-वे के बारे में बिहार के पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश में एक्सप्रेसवे का जाल पूरी तरह अभी बिछा हुआ है. जहाँ सबसे पहले हम आपको वाराणसी-रांची-कोलकाता एक्सप्रेसवे के बारे में बता देते है.

Also read: Special Train : बिहार से दिल्ली जाना अब और हुआ आसान यह स्पेशल ट्रेन की बढ़ गई फेरा, जान लीजिये टाइम टेबल

जो की इसका निर्माण 7 पॅकेज में होने वाला है. इसमें से 5 पैकेज में बिहार के कई हिस्सों को जोड़ते हुए एक्सप्रेस वे का निर्माण होगा। अगर इसकी लागत की बात करें तो अनुमानित लागत 28,500 करोड़ बताई गई है।यह 619 किमी लंबाई के साथ चार राज्यों को कवर करेगा।

Also read: Gold-Silver Price Today: चांदी के भाव में आई मामूली गिरावट, सोना हुआ इतना सस्ता जानिये क्या है ताजा भाव

सोनू मूल रूप से बिहार के समस्तीपुर जिला के रहने वाले है पिछले 4 साल से डिजिटल पत्रकारिता...