कोका-कोला के चलते पिटते-पिटते बचे थे क्रिस्टियानो रोनाल्डो?

क्रिस्टियानो रोनाल्डो. कोका-कोला. यूरो 2020. प्रेस कॉन्फ्रेंस. पिछले कुछ घंटों से ये सारे केवर्ड पूरी दुनिया में छाए हैं. EURO2020 की एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में रोनाल्डो ने कोका-कोला की बोतलों को यूं किनारे लगाया मानो वो कोक ना होकर जनता से जुड़े अहम मुद्दे हों. बस इतनी सी बात थी, सबको इनसे प्यार था. और इस प्यार का हरजाना भरा कोका-कोला के शेयर्स ने.

बोतलें किनारे लगते ही कोक के शेयर बीच भंवर फंस गए. अमेरिकी स्टॉक मार्केट के ये शेयर इतना गिरे, इतना गिरे कि कुछ सेकेंड्स में कोका-कोला को चार बिलियन अमेरिकी डॉलर यानी 2,93,19,00,00,000 रुपयों का नुकसान हो गया. हालांकि बाद में उन शेयर्स ने रिकवरी भी की लेकिन दिल में करारा दर्द तो उठा ही गए.

अब दर्द उठा तो आवाज होनी ही थी. कोका-कोला ने रोनाल्डो की इस हरकत के बाद एक ऑफिशल बयान जारी कर कहा,

इस क़िस्से के सामने आने के बाद से ही जानकारों का दावा है कि इस घटना के बाद से रोनाल्डो ने पलटकर कोक की तरफ नहीं देखा. हालांकि हम इससे सहमत नहीं हैं. रोनाल्डो भूतकाल में कोका-कोला का प्रचार कर चुके हैं. और समयमणि ना होने के चलते अब वो इसे बदल भी नहीं सकते.

11 गोल्स के साथ अब वह फ्रांस के दिग्गज माइकल प्लातिनी से आगे निकल गए हैं. प्लातिनी के नाम कुल नौ यूरो गोल्स थे. रोनाल्डो के टोटल इंटरनेशन गोल्स भी बढ़कर 106 हो गए हैं. इस मामले में अब उनसे आगे सिर्फ ईरान के अली दाइ हैं. दाइ के नाम 109 इंटरनेशनल गोल्स हैं.