बगैर कोचिंग पढ़ाई कर पहले ही प्रयास में BPSC के टॉपर बने अनुराग, जाने कैसे की तैयारी

बिहार लोक सेवा आयोग ने 64वीं संयुक्त मुख्य प्रतियोगिता परीक्षा का फाइनल रिजल्ट जारी कर दिया है।इस भर्ती परीक्षा के लिए 4 लाख 71 हजार से अधिक उम्मीदवारों ने आवेदन किया था। जिनमे से कुल 1454 छात्रों का का चयन किया गया है। पटना जिले के फतुहां निवासी ओम प्रकाश गुप्ता बीपीएससी में पहला रैंक लाकर टॉपर बने हैं। वहीं दरभंगा जिला के लक्ष्मीसागर के रहने वाले अनुराग आनंद तीसरे टॉपर घोषित किए गए हैं। अनुराग आनंद को पहले प्रयास में ही सफलता मिली है।

अनुराग ने 10 वीं तक की पढ़ाई स्थानीय दरभंगा के DAV स्कूल से की। उन्होंने रांची विद्या मंदिर से 12वीं पास किया, जिसके बाद आगे की पढ़ाई के लिए वो दिल्ली चले गए। साल 2016 में आइआईटी से बीटेक किया. बीटेक कम्लीट होते ही ICCI बैंक से काम करने का ऑफर आया, लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया।

मोबाइल पर यूट्यूब और टेलिग्राम जैसी सोशल साइट पर जाकर पढ़ाई के लिए मैटेरियल प्राप्त किया, खूब मेहनत की और सफलता पाई। अनुराग आनंद का कहना है कि छात्र यदि लगन और मेहनत से तैयारी करे तो उसे सफलता जरूर हाथ लगती है। अनुराग का परिवार दरभंगा जिले के लक्ष्मी सागर में ही रहता है। अनुराग के पिता विजय कुमार झा SBI के लहेरियासराय सीएई ब्रांच के मैनेजर हैं और उनकी मां इंदु झा हाउस वाइफ हैं। अनुराग आनंद के एक बड़े भाई हैं अभिषेक आनंद। वह न्यू इंडिया इंश्योरेंस कंपनी में काम करते हैं।