5 हजार रुपये का निवेश कर हर महीने कमाएं 50 हजार रुपये, सरकार करेगी काम शुरू करने में मदद

महामारी के कारण क्‍या आप भी बेरोजगार हो गए हैं, या आपका काम बंद हो गया है तो अब आप सरकार की मदद से फि‍र से अपना एक नया काम शुरू कर सकते हैं। आज हम आपको एक ऐसा बिजनेस आइडिया बताने जा रहे हैं, जिसकी मदद से आप हर महीने अच्‍छीखासी कमाई कर सकते हैं। हम सभी जानते हैं कि भारत में बहुत से लोग चाय के शौकीन हैं। रेलवे स्टेशन, बस डिपो, हवाईअड्डों और शॉपिंग मॉल्‍स में  कुल्हड़ की चाय की लगातार मांग बढ़ रही है। ऐसे में आप कुल्हड़ बनाने और बेचने का बिजनेस शुरू कर सकते है।

केंद्र की मोदी सरकार भी इस समय कुल्हड़ की मांग बढ़ाने पर ध्‍यान केंद्रित कर रही है। कुछ समय पहले सड़क और परिवहन मंत्री नितिन गड़करी ने कुल्हड़ को बढ़ावा देने के लिए प्लास्टिक और कागज के कप में चाय देने पर रोक लगाने की मांग की थी। इसके अलावा लोग भी अब अपने स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अधिक जागरूक हो गए हैं और वो भी प्‍लास्टिक के कप के बजाये मिट्टी के कुल्‍हड़ को अधिक प्राथमिकता दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें  अच्छी खबर : हावड़ा से बिहार एक और ट्रेन को हरी झंडी, लोगों को मिलेगी बड़ी सुविधा !

आपको बता दें कि मोदी सरकार ने कुल्हड़ बिजनेस को बढ़ावा देने के लिए कुम्हार सशक्तीकरण योजना को लागू किया है। इस योजना के तहत केंद्र सरकार देशभर के कुम्हारों को बिजली से चलने वाली चाक देती है तो वो इससे कुल्हड़ समेत मिट्टी के बर्तन बना सकें। बाद में सरकार कुम्हारों से इन कुल्हड़ को अच्छी कीमत पर खरीद लेती है।

मौजूदा दौर को देखते हुए यह बिजनेस बेहद कम कीमत में शुरू किया जा सकता है। इसके लिए आपको थोड़ी सी जगह के साथ-साथ 5,000 रुपये की जरूरत होगी। खादी ग्रामोद्योग आयोग के चेयरमैन विनय कुमार सक्सेना ने जानकारी दी है कि इस साल सरकार ने 25 हजार इलेक्ट्रिक चाक वितरित किए हैं।

यह भी पढ़ें  अब बाइक में पेट्रोल इंजन की जगह बैट्री लगवा रहे हैं लोग! जानें- कितना आता है खर्चा?

चाय का कुल्हड़ बेहद किफायती होने के साथ-साथ पर्यावरण के लिहाज से भी सुरक्षित होता है। मौजूदा दर की बात करें तो चाय के कुल्हड़ का भाव करीब 50 रुपये सैकड़ा है। इसी प्रकार लस्सी के कुल्हड़ की कीमत 150 रुपये सैकड़ा, दूध के कुल्हड़ की कीमत 150 रुपये सैकड़ा और प्याली 100 रुपये सैकड़ा चल रही है। मांग बढ़ने पर इससे अच्छे रेट की भी संभावना है।

आज के समय में शहरों में कुल्हड़ वाली चाय की कीमत 15 से 20 रुपये तक भी होती है। अगर बिजनेस को सही तरीके से चलाया जाए और कुल्हड़ बेचने पर ध्यान दिया जाए तो 1 दिन में 1,000 रुपये के करीब बचत की जा सकती है।

यह भी पढ़ें  Amazon ने बिहार के बेटा अभिषेक को दिया पूरे 1 करोड़ 8 लाख का बड़ा पैकेज, घरों में ख़ुशी का माहोल