Weather forecast मई में तापमान ने तोड़ा 89 साल का रिकार्ड, जून माह का पूर्वानुमान जारी

इस बार मई में तापमान ने पिछले 89 साल का रिकार्ड तोड़ दिया है। कई मामलों में मई का महीना गर्मी से राहत भरा रहा। मौसम ( mausam ) का उतार-चढ़ाव चलता रहा लेकिन इस बार मई में तापमान 40 डिग्री से अधिक नहीं पहुंच सका। इससे एक तरफ लोगों ने गर्मी से राहत महसूस की वहीं इससे अधिकांश घरों में एसी और कूलरों पर भी प्रतिबंध लगा रहा। यह कई दशकों में हुआ है जब लोगों ने जून माह में भी एसी और कूलर चलाने से परहेज किया हो।

इस बार मई के महीने में औसत तापमान 35-40 डिग्री के बीच ही रहा। इसका मुख्य कारण इस मई के महीने में आए चक्रवात को माना जा रहा है। मई माह में आए दो चक्रवात के कारण अधिकतम और न्यूनतम तापमान वो गति नहीं पकड़ पाया जो कि आमतौर पर अन्य सालों में मई के महीने में पकड़ लेता था।

यह भी पढ़ें  खुशखबरी! चुनाव नतीजों के बाद महंगा नहीं सस्‍ता हुआ पेट्रोल-डीजल, अभी और कम होंगे रेट!

हालांकि ऐसा पिछले साल 2020 में भी मई के महीने में हुआ था लेकिन 2020 में मई के महीने में दो बार तापमान 42 डिग्री तक पहुंच चुका था। इस बार तापमान 40 डिग्री से ऊपर एक बार ही जा पाया। वह भी 40.8 तक ही पहुंच सका।

मौसम विभाग ( weather department ) के अनुसार अब जून माह में भयंकर गर्मी पड़ेगी। इसलिए आप अभी से जून माह के लिए तैयार रहिएगा। जून माह में इस बार पहले सप्ताह से ही तापमान बढ़ने की आशंक है। जून के तीसरे सप्ताह में गर्मी अपने पूरे यौवन पर पहुंच जाएगी।