ग्रामीण इलाकों में सख्ती, सभी शादियों व श्राद्ध की बनेगी रिपोर्ट

बिहार के ग्रामीण इलाकों में लॉकलडाउन का पालन सुनिश्चित करने के लिए और सख्ती बरती जाएगी। इसके लिए प्रखंड स्तर के अधिकारियों को विशेष जिम्मा दिया गया है। गांव में होने वाले शादी व श्राद्धकर्म की भी रिपोर्ट लिखी जाएगी।

राज्य सरकार के दिशा निर्देश पर गांव में लॉकडाउन का पालन कराने के लिये पुलिस की गश्ती बढ़ाने का निर्णय लिया गया है, ताकि गांव में लाकडाउन के नियमों का पालन हो सके। ऐसा नहीं करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। चूंकि ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण का दर अब भी अधिक हैं और गांव के लोग जागरूकता के आभाव में शादी-विवाह एवं श्राद्ध में जुट रहें हैं।

ऐसे में संक्रमण घटने की जगह बढने का खतरा हैं। इस कारण पुलिस की गश्त बढाने का अनुरोध स्वास्थ्य विभाग ने पुलिस मुखयालय से किया है। ग्रामीण क्षेत्रों में लॉकडाउन का पालन कराने और संक्रमण से बचाने के लिये जनप्रतिनिधियों से भी सहयोग लिया जाएगा।

पुलिस के अलावा बीडीओ व सीओ भी गश्त करेंगे ताकि संक्रमित हर व्यक्ति की पहचान हो सके और लोग कोरोना गाइडलाइन का पालन करें। वहीं, इसके लिये एक व्हाट्सएप ग्रुप भी बनाने का निर्देश दिया गया है.

जिस पर गांव में ऐसे लोगों की सूचना दी जायेगी जो बीमार होने के बावजूद डाक्टर से मिलने नहीं जा रहें हैं। वैसे लोगों को गांव के अन्य लोगों के सहयोग से अस्पताल पहुचाया जायेगा ताकि समय पर उपचार हो सके।

Input: live hindustan