Bihar : अफसर संभालेंगे बिहार में पंचायतों की कमान या बढ़ेगा मुखिया-सरपंच का कार्यकाल? सत्ता पक्ष और विपक्ष में रार

Bihar Panchayat Election: बिहार निर्वाचन आयोग ने कोरोना वायरस की महामारी की वजह से पंचायत चुनाव टाल दिए हैं. जबकि इन दिनों वैकल्पिक व्यवस्था के रूप में पंचायतों को अफसरों के हाथों में सौंपने या फिर मुखिया-सरपंच सहित अन्य पंचायत प्रतिनिधियों का कार्यकाल आगे बढ़ाने जैसे मुद्दों पर मंथन जारी है.

पटना. कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर के बाद बिहार में राज्य निर्वाचन आयोग ने पंचायत चुनाव (Bihar Panchayat Election) टाल दिए हैं. मौजूदा परिस्थिति को देखते हुए पंचायत चुनाव नहीं होने के कारण वैकल्पिक व्यवस्था को लेकर अब सत्ता पक्ष और विपक्ष में तकरार शुरू हो गई है.

पंचायत चुनाव टलने की स्थिति में जब पंचायत के प्रतिनिधियों और कार्यकाल पूरा हो जाएगा तो फिर इसकी वैकल्पिक व्यवस्था का क्या होगा, इसे लेकर दो तरह की राय बन रही है.

इन दिनों वैकल्पिक व्यवस्था के रूप में पंचायतों को अफसरों के हाथों में सौंप दिए जाने या फिर मुखिया-सरपंच सहित अन्य पंचायत प्रतिनिधियों का कार्यकाल आगे बढ़ाने जैसे दो प्रमुख उपायों पर मंथन जारी है.

विपक्षी दलों का कहना है कि 15 जून के बाद भी मौजूदा निर्वाचित प्रतिनिधियों को ही पंचायत के कामकाज के संचालन का अधिकार दिया जाए. हालांकि सत्ताधारी दल इसके ठीक विपरीत राय रखते नजर आ रहे हैं. उनका मानना है कि सरकार इस पर उचित फैसला ले सकती है.