23 जून को होने वाला B.ed का परीक्षा रद्द, बनाये गये थे 300 से ऊपर केंद्र 1 लाख छात्र किये थे आवेदन

राज्य स्तरीय बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा स्थगित कर दी गई है। बता दे कि ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय सीइटी-बीएड के राज्य नोडल पदाधिकारी प्रो. अशोक कुमार मेहता ने बताया कि सोमवार को कुलाधिपति फागू चौहान ने बिहार के सभी प्रमंडलीय आयुक्तों के साथ आनलाइन बैठक की।

इसमें प्रवेश परीक्षा स्थगित करने का निर्णय लिया गया। बता दें कि 23 जून को बिहार के 11 शहरों में सुबह 11 बजे से दोपहर के एक बजे तक दो वर्षीय बीएड एवं शिक्षा शास्त्री प्रवेश परीक्षा की तिथि निर्धारित थी। बिहार के 11 शहरों में निर्धारित 325 परीक्षा केंद्रों पर 191929 अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल होते।

यह भी पढ़ें  बिहार के पूर्वी हिस्सों में लोग कड़कड़ाती धुप से है परेशान, जानिये कब तक दस्तक देगा मानसून

राज्य नोडल पदाधिकारी प्रो. अशोक कुमार मेहता ने कहा कि, सीइटी-बीएड प्रवेश परीक्षा तत्काल स्थगित कर दी गई है। कुलाधिपति के निर्देशानुसार परीक्षा स्थगित की गई है। जल्द ही नई तिथि घोषित की जाएगी।

वहीँ परीक्षा सेंटर की बात करें तो अबसे अधिक परीक्षा केंद्र राजधानी पटना में बनाया गया था लगभग 76 परीक्षा केंद्र पटना में बनाया गया था | संयुक्त प्रवेश परीक्षा के लिए 191929 अभ्यर्थियों ने आनलाइन आवेदन जमा किए हैं। इसमें 97718 महिला एवं 94211 पुरुष अभ्यर्थी शामिल हैं।

शिक्षा शास्त्री के लिए 280 अभ्यर्थियों ने आवेदन किए हैं, इसमें 95 महिला एवं 185 पुरुष शामिल हैं। महिला एवं पुरुष अभ्यर्थियों के लिए अलग-अलग परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। महिलाओं के लिए कुल 157 एवं पुरुषों के लिए 168 परीक्षा केंद्र निर्धारित है। पटना में सबसे अधिक 77 परीक्षा तो छपरा में सबसे कम 14 परीक्षा केंद्र बनाए गए। पटना में सर्वाधिक 54584 वहीं छपरा में 7019 अभ्यर्थी परीक्षा में भाग लेंगे।

यह भी पढ़ें  IAS Interview Question : फेविकोल उस बॉटल में क्यों नहीं चिपकता जिसमें वह भरा होता है?