Bihar Weather: अररिया, किशनगंज, पूर्णिया में भारी बारिश का अलर्ट पटना, बक्‍सर, औरंगाबाद में सताएगी उमस भरी गर्मी

bihar weather update :  इस समय बिहार में दो तरफ़ा मौसम चल रहा है जहाँ एक तरफ लोग गर्मी से परेशान है वहीँ दूसरी तरफ बारिश आने की संभावना जताई जा रही है | आपको बता दे की बिहार में बुधवार को पटना समेत 18 जिलों के तापमान में क्रमिक वृद्धि दर्ज की गई।

वहीँ राजधानी पटना का अधिकतम तापमान सामान्य से दो डिग्री ज्यादा 39.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विज्ञान की मानें तो पटना सहित प्रदेश के कई भाग को हफ्ते भर गर्मी सताएगी। वहीं, दूसरी ओर प्रदेश में अगले 24 घंटों के दौरान 15 जिलों में मेघ गर्जन के साथ बारिश के आसार है। उत्तर पूर्व के चार जिले  सुपौल, अररिया, किशनगंज, पूर्णिया में भारी बारिश को लेकर मौसम विज्ञान केंद्र की ओर से यलो अलर्ट जारी करते हुए लोगों को सुरक्षित स्थानों पर रहने की सलाह दी गई है। 

वहीं, औरंगाबाद दूसरे दिन भी प्रदेश का सबसे गर्म शहर रहा, जहां अधिकतम तापमान 43.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विज्ञान केंद्र पटना के अनुसार, 24-48 घंटों के दौरान प्रदेश के दक्षिण पश्चिम भागों के अधिकतर शहरों का तापमान 42-44 डिग्री रहने के आसार हैं। 15 जून के पहले लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिलने वाली नहीं है। 

जिलों को लेकर अलर्ट जारी  

अगले 24 घंटों के दौरान पूर्वी व पश्चिमी चंपारण, गोपालगंज, शिवहर, सीतामढ़ी, मधुबनी, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, सुपौल, अररिया, किशनगंज, सहरसा, मधेपुरा, पूर्णिया, कटिहार जिले के एक दो स्थानों पर मेघ गर्जन के साथ बारिश का पूर्वानुमान है। वहीं दक्षिण पूर्व बिहार के भागलपुर,बांका, जमुई, मुंगेर व खगडिय़ा के एक दो स्थानों पर हल्की बारिश के आसार हैं। 

इन जिलों में हुई बारिश 

  • किशनगंज के बहादुरगंज-23.4 
  • पूर्णिया के अमौर -19.2 
  • किशनगंज के चरघरिया-7
  • अररिया के फारबिसगंज-4.2
  • औरंगाबाद के रफीगंज-2.2

शहरों के तापमान में हुई वृद्धि 

  • बक्सर -0.4-43.2 
  • नालंदा -0.7-38.8 
  • सारण -0.3-38.5 
  • मुजफ्फरपुर-0.2-34.2
  • बांका-0.2-36.3 
  • भागलपुर -1.4-37.6
  • (तापमान डिग्री सेल्सियस में)
  • पूर्वी व पश्चिमी चंपारण, समस्तीपुर, दरभंगा, सीतामढ़ी, गया, नवादा,
  • शेखपुरा, दरभंगा, सुपौल के तापमान में थोड़ी गिरावट दर्ज की गई। 

प्रदेश से होकर गुजर रही ट्रफ रेखा  

मौसम विज्ञानी के अनुसार, प्रदेश के दक्षिणी भाग में पछुआ और उत्तरी भाग में पुरवा की मजबूत स्थिति बनी हुई है। वहीं पूर्व पश्चिम ट्रफ-रेखा उत्तरी पंजाब से मणिपुर, उत्तर हरियाणा, उत्तरप्रदेश, बिहार होते हुए पश्चिम बंगाल, असम व मेघालय की ओर बढ़ रही है। इसके प्रभाव से उत्तर बिहार में बारिश की गतिविधियों में बढ़ोतरी देखी जा रही है। वहीं, दक्षिण बिहार के पछुआ के कारण तापमान में क्रमिक वृद्धि होने के साथ उमस भरी गर्मी लोगों को परेशान कर रही है।