बिहार के युवाओं को रोजगार के लिए नहीं जाना पड़ेगा दुसरे शहर, शुरू हुआ 100 एकड़ में ये बड़े फैक्ट्री मिलेगा रोजगार

दोस्तों बिहार में सभी राज्य की अपेक्षा बहुत कम कम्पनी फैक्ट्री उद्योग धंधा है जिसके वजह से बिहार में रोजगार का साधन साफ़ नहीं के बराबर है इसके चलते बिहार के लोगों को रोजगार के लिए दुसरे शहर दिल्ली, पंजाब, हैदराबाद, महाराष्ट्र इत्यादि जगहों पर जाना पड़ता है | लेकिन अब बढ़ते बिहार में धीरे-धीरे एक से एक अच्छे-अच्छे कम्पनी का स्थापना किया जा रहा है | जिससे लोगों को भरपूर मात्रा में रोजगार मिल सके |

दरअसल हम बात कर रहे है बिहार के खगड़िया जिले के जहाँ लगभग 100 एकड़ की जमीन पर कल कारखाने कम्पनी का स्थापना किया जाना है | इसके फलस्वरूप इस क्षेत्र के विकास के साथ हजारों लोगों को रोजगार की प्राप्ति होगी। मिली जानकारी के अनुसार जिले में औद्योगिक क्षेत्र की स्थापना के लिए राज्य स्तर पर भूमि चयन का प्रस्ताव भेजा गया है। सौढ़ मौजा में सौ एकड़ चिन्हित भूमि के लिए बिहार औद्याेगिक क्षेत्र विकास प्राधिकार को पत्राचार किया गया है।

औद्योगिक क्षेत्र की स्थापना के लिए सौ एकड़ जमीन को लेकर डीएम डॉ आलोक रंजन घोष द्वारा कार्यकारी निदेशक, निवेश प्रोत्साहन व सरलीकरण बियाडा को पत्र लिखकर प्रस्ताव भेजा गया है। कार्यकारी निदेशक को लिखे गए पत्र में डीएम ने जानकारी दी कि जिला मुख्यालय से 33 किमी की दूरी पर परबत्ता प्रखंड के सौढ़ मौजा में सौ एकड़ गैरमजरुआ खास भूमि उपलब्ध है। यह भूमि बिहार सरकार के स्वामित्व में है जो कि एनएच-31 से बगल में है।

वहीँ वहां के स्थानीय डीएम द्वारा बताया गया कि यह जमीन खाली व विवाद मुक्त है। मुख्य सड़क से यहां तक पहुंचने के लिए अन्य मार्ग भी मौजूद है जिसकी जानकारी डीएम द्वारा बिहार औद्योगिक क्षेत्र विकास प्राधिकरण के कार्यकारी निदेशक को दी गई। यह जमीन औद्योगिक क्षेत्र की स्थापना के लिए उपयुक्त है।