बिहार के रेल रूट को मिला तोहफ़ा कलकत्ता, दिल्ली जाने के लिए डबल डेकर ट्रेन का कम होगा किराया

दोस्तों बिहार के लोग भी अब डबल डेकर ट्रेन की का आनंद साल भर के अन्दर ले सकेंगे जी हाँ राजधानी पटना से होकर बहुत जल्द गुजरेगी डबल डेकर ट्रेन इस विषय पर रेलवे अपनी और से तीव्र गति से काम कर रही है | बता दे कि जिसकी स्पीड काफी तेज होने के साथ-साथ उस ट्रेन का किराया भी काफी कम होगा।

वहीँ जैसे ही रेलवे बोर्ड द्वारा स्वीकृति मिलेगी यह डबल डेकर ट्रेन जल्दी ही दिल्ली से पटना, दिल्ली से हावड़ा वाया बिहार सहित अन्य रेल खंडों पर भी दौड़ेगी। आपको बता दें कि, फिलहाल तो यह ट्रेन बस लखनऊ से नई दिल्ली और नई दिल्ली से जयपुर के बीच ही चलाई जाती है।

यह भी पढ़ें  बिहार में रोजगार की भरमार पटना में स्टार्टअप कॉन्क्लेव जुटेंगे 700 से अधिक युवा स्टार्टअप उद्यमी

अगर तैयारियों की बात करें ,तो पिछले 2 सालों से बंद पड़े इस डबल डेकर ट्रेन को वापस से शुरू करने की सारी तैयारियां लगभग अपने चरम सीमा तक पहुंच चुकी है। गौरतलब है कि, जहां डबल डेकर ट्रेन जो कि लखनऊ से आनंद विहार टर्मिनल तक जाती है, उसे यह सफर तय करने में 8 घंटे का समय लगता है। वहीं दूसरी तरफ तेजस और शताब्दी को लखनऊ से दिल्ली पहुंचने में बस 6:30 घंटे तक का ही समय लगता है। हां, अगर किराए की बात करें तो यह डबल डेकर ट्रेन बाकियों से ज्यादा किफायती है।

अगर किराए की बात की जाए तो तेजस व शताब्दी एक्सप्रेस ज्यादा महंगी है, डबल डेकर के मुकाबले में। एक तरफ जहां शताब्दी एक्सप्रेस का किराया 1400 से 2400 के बीच होता है और तेजस का किराया 2000 से अधिक होता है वही डबल डेकर ट्रेन का किराया जानने के बाद ऐसा लगता है कि यह बाकी दोनों एक्सप्रेस ट्रेनों को टक्कर दे सकती है। क्योंकि डेढ़ साल पहले लखनऊ से आनंद विहार टर्मिनल तक जाने तक का किराया ₹645 था। तो अनुमान लगाया जा रहा है कि अब भी इसमें ज्यादा वृद्धि नहीं हुई होगी ।

यह भी पढ़ें  बिहार में प्राइवेट स्कूल कोचिंग खोलने के लिए इन नियमों का करना होगा पालन, जानिए क्या है नियम