बिहार में कभी हो जाता है पूल चोरी तो कभी रेलवे का तार, चुरा ले गया चोर 3 घंटे फसीं रही ट्रेनें, सैकड़ों यात्री हुए परेशान

बिहार में कुछ दिन पहले चोर ने लोहे से बना पुराना पूल को रातों-राटा ट्रक पर लाद कर ले गया | लेकिन इस बार भी कुछ ऐसे ही कारनामा किया है चोरो ने रेलवे का तार ही चुरा लिए दरअसल बिहार के मुजफ्फरपुर रेलवे जंक्शन से सटे माड़ीपुर आउटर के पास चोरों ने सिग्नल का तार काट दिया।

इससे बुधवार को शाम पौने सात से रात पौने दस बजे तक जंक्शन से गुजरने वाली आधा दर्जन ट्रेनें जहां-तहां फंसी रहीं। अप व डाउन दोनों तरफ की गाड़ियों को विभिन्न स्टेशनों पर रोकना पड़ा। फिर वहां पर सिग्नल के अधिकारी पंहुचे और उसके बाद उसके काम को शुरू किया गया | और करीब ढाई घंटे से तीन घंटे के बाद ट्रेन का परिचालन शुरू किया गया |

वहीँ आपको बता दे कि बिहार के मुज़फ्फरपुर रेलवे जंक्शन पर हजारों यात्रियों को घंटो तक ट्रेन न आने की वजह से परेशानी झेलनी पड़ी। मुजफ्फरपुर जंक्शन के सिग्नल व प्वाइंट़स भी फेल हो गए। सिग्नल अधिकारियों को इसकी भनक तक नहीं लगी। ट्रेनों का परिचालन बंद होने पर सिग्नल के अधिकारी वहां पहुंचे। ट्रेन को जहाँ तहां जैसे-तैसे रोकना पड़ा |

बीच रास्ते में ही रुकी मुज्ज़फरपुर आने वाली सभी ट्रेने :

मुजफ्फरपुर की ओर आने-जाने वाली सभी ट्रेनों को रास्ते में ही रुक गईं। करीब ढ़ाई घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद सिग्नल काम करना शुरू किया। उसके बाद ट्रेनों का परिचालन शुरू हुआ। मुज़फ्फरपुर, रामदयालुनगर, मोतीपुर एवं अन्य स्टेशनों पर ट्रेनें खड़ी रहने से यात्रियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा।

14674 अमृतसर जयनगर शहीद एक्सप्रेस रामदयालु में ढ़ाई घंटे से अधिक देरी तक खड़ी रही। 12537 मुजफ्फरपुर-मंडवाडीह एक्सप्रेस मुजफ्फरपुर जंक्शन पर दो घंटे खड़ी रही।

05502 मुरादाबाद बरौनी परीक्षा स्पेशल ट्रेन रामदयाल नगर स्टेशन पर दो घंटे खड़ी रही। ट्रेन खोलने को लेकर विद्यार्थियों ने हंगामा भी किया। उनका कहना था कि दूर-दूर से परीक्षा देने आए। परीक्षा स्पेशल में बैठे तो गाड़ी चल ही नही रही।

05201 पाटलिपुत्र नरकटियागंज सवारी गाड़ी ढाई घंटे रामदयाल नगर में खड़ी रही। वहीं 19037 ब्रांदा बरौनी एक्सप्रेस मोतीपुर स्टेशन के समीप खड़ी रही। रात को करीब दस बजे से ट्रेनों का परिचालन सामान्य हो सका।

तार चोरी होने के वजह से हुआ ट्रेन के परिचालन में असुविधा :

मुजफ्फरपुर, रामदयालुनगर, मोतीपुर एवं अन्य स्टेशनों पर ट्रेनें खड़ी रहने से यात्रियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। मौके पर स्टेशन निदेशक मनोज कुमार समेत कई अधिकारी पहुंचे। डीआरएम नीलमणि ने मामले के जांच के निर्देश दिए हैं। वहीं दूसरी ओर पूर्व मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी वीरेंद्र कुमार ने बताया कि तार चोरी से ट्रेन परिचालन बाधित होने की सूचना मिली है। मामले की जांच कराई जाएगी