बिहार में अगले साल मार्च तक पूर्णिया सहित शुरू होगी ये हवाईअड्डे, डीपीआर का काम हुआ पूरा

बिहार को बेहतर बनाने के लिए केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार दोनों साथ मिलकर काम कर रही है ताकि बिहार को विकाश का एक नया उड़ान मिल सके | बिहार के पूर्णिया जिले से अक्सर पूर्णिया एयरपोर्ट को लेकर मांग उठती रहती है | ऐसे में बता दे कि पूर्णिया के लोगों के लिए अच्छी खबर है | मंत्री ने पूर्णिया के लोगों को इस बात की जानकारी दी है कि अगले साल मार्च तक यहाँ से उडान भरने की संभावना है | अगर यह एयरपोर्ट चालू हो जाती है तो बिहार को हवाई मार्ग में कनेक्टिविटी और बढ़ जायेगी |

52 एकड़ जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया :

जानकरी के मुताबिक मिथिला स्टूडेंट यूनियन के जिला अध्यक्ष अविनाश कुमार ने इससे संबंधित नागरिक उड्डयन मंत्री जनरल वीके सिंह के दिल्ली आवास पर मुलाकात की इसके साथ ही साथ उन्हें पूर्णिया एयरपोर्ट पर बनी मिथिला पेंटिंग भेंट की है। साथ ही साथ उन्होंने बताया कि पूर्णिया में विमान सेवा शुरू करने के लिए पिछले 2 वर्षों से लगातार सोशल मीडिया पर आंदोलन कर रहे हैं।

बता दे कि बिहार के पूर्णिया जिले में विमान सेवा शुरू करने में सबसे बड़ी समस्या भूमि अधिग्रहण को लेकर थी जिसको देखकर कई सालों से हाई कोर्ट में मुकदमा चल रहा है ऐसे में बताया जा रहा है। कुल 52 एकड़ जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया पूरी कर बिहार सरकार के माध्यम से नागर विमानन मंत्रालय के निदेशक को सौंप दी गयी। पूर्णिया एक सैन्य हवाई अड्डा है, इसलिए रक्षा मंत्रालय से एनओसी के लिए डीपीआर भेजा गया है।