बड़ी खबर : रेलवे ने लिया बड़ा फैसला कोयले को कमी के कारण 24 मई तक एक हजार से अधिक ट्रेनें रद्द

कोयला दिन-प्रतिदिन बड़ी समस्या बनता जा रहा है | कोयला के कमी से सिर्फ एक राज्य नहीं लगभग पूरा देश परेशान है | बता दे कि कोयले का रेक समय पर थर्मल पावर स्टेशनों तक पहुंच सके इसको लेकर रेलवे अबतक कई ट्रेनों को रद्द कर चुका है। एक बार फिर रेलवे ने 24 मई तक 1100 ट्रेनों को कैंसिल कर दिया है। कैंसिल की गई ट्रेनों में मेल, एक्सप्रेस और पैसेंजर ट्रेनें शामिल हैं।

२४ मई तक एक हजार से अधिक ट्रेन को किया गया रद्द :

वहीँ अगर मीडिया रिपोर्ट की माने तो थर्मल पावर स्टेशन में बिजली का उत्पादन ठप न हो इसको लेकर कोयला रेक ट्रेनों के लिए यात्री ट्रेनों को लगातार रद्द किया जा रहा है। अब रेलवे ने एक बार फिर 1100 ट्रेनों को अगले 24 मई तक रद्द कर दिया है। रद्द किए गए ट्रेनों में मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों की 500 ट्रिप जबकि पैसेंजर ट्रेनों की 580 ट्रिप्स शामिल हैं।

यह भी पढ़ें  यात्रिगन कृपया ध्यान दें: रेलवे ने आज कई ट्रेनों को किया रद्द , यहां देखें पूरी लिस्ट

29 अप्रैल को भी रद्द की गई थी ट्रेने :

इस संबंध में जारी एक रिपोर्ट के अनुसार, कोयला आपूर्ति करने के मकसद से एक्सप्रेस मेल ट्रेनों के लगभग 500 ट्रिप और पैसेंजर ट्रेनों के 580 ट्रिप रद्द कर दिए गए हैं। इससे पहले भारतीय रेलवे ने 29 अप्रैल को देशभर में कम से कम 400 कोयला रेक की आवाजाही के लिए 240 यात्री ट्रेनों को रद्द करने की घोषणा की थी। इसमें कहा गया कि देश के विभिन्न थर्मल पावर प्लांटों पर कोयले से लदी ट्रेनों को असानी से रास्ता दिया जा सके, ताकि समय पर कोयला पहुंच सके और बिजली संकट से निपटा जा सके, इसलिए विभिन्न रूटों पर इतनी बड़ी संख्या में ट्रेनों को रद्द किया गया है।

यह भी पढ़ें  बड़ी खबर : बिहार के इन रूटों से होकर गुजरने वाली कई ट्रेनें की गई रद्द, देख ले पूरी लिस्ट..

साथ ही बिहार, यूपी, राजस्थान, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु समेत कई राज्यों में कोयले की कमी के कारण बिजली संकट गहरा गया था। इसको लेकर सरकार ने कई बैठकें भी की थी। बिजली कटौती के कारण लोगों को भारी परेशानी झेलनी पड़ रही थी। ऐसे में थर्मल पावर स्टेशनों तक पहुंचने के लिए कोयले से लदी मालगाड़ियों को आसानी से रास्ता दिया जा सके, इसको लेकर रेलवे ने इन ट्रेनों को रद्द किया है।