400 करोड़ की लागत से बिहार का यह रेलवे स्टेशन बनेगा वर्ल्डक्लास, 22 मई से शुरू की जायेगी टेंडर की प्रक्रिया

बिहारवासी के लिए रेलवे एक बड़ी सौगात दे रही है जी हाँ दोस्तों आपको बता दे कि हम बात कर रहे है बिहार के मुज्ज़फरपुर रेलवे स्टेशन के बारे में जिसमे रेलवे 400 करोड़ रुपया लगाकर उसको वर्ल्ड क्लास बनाने जा रही है | इस बात की जानकारी रेलवे के तरफ से दी गई है | वहीँ आपको बता दे कि 200 करोड़ का डीपीआर तैयार किया गया था। रेल मंत्री के आदेश पर एयर कानकोर्स(बड़ा ब्रिज) में वृद्धि होने से इसमें 200 करोड़ रुपये और बढ़ गए।

डीपीआरके मुताबिक आरपीएफ पोस्ट के नजदीक 6 मीटर के बने फुटओवर ब्रिज को तोड़कर हटा दिया जाएगा। और वहां से पश्चिम दिशा की ओर 108 मीटर का एयर कानकोर्स बनाया जाएगा। यह इसीलिए किया जा रहा है क्योंकि इस पर रेल राज्य मंत्री ने आपत्ति जताई थी | जिसके बाद इसको बढाया जा रहा है |

इस काम को करने के लिए राजधानी पटना में ठेकेदारो की बैठक बुलाई गई है | उसमे इस कार्य को लेकर विस्तृत रूप से चर्चा की जाएगी | की कैसे इस काम को सही समय पर सही रूप से पूरा किया जा सके | टेंडर ओपन का समय 22 जून रखा गया है। उस दिन रेल भूमि विकास प्राधिकरण के जीएम प्रोजेक्ट पीआर सिंह, मेंबर प्रोजेक्ट अंजनी कुमार एवं जीएम सुनील कुमार वर्मा सहित अन्य रेल अधिकारी मौजूद रहेंगे। टेंडर होने के बाद रेल अधिकारी इसका शुभारंभ करेंगे। अधिकारुई के अनुसार आपको बता दे कि इस बड़े सौदे का ठेकेदारी एयरपोर्ट के ठीकेदारों को दिया जाएगा | और साथ ही इसका निर्माण आगे के 50 साल को ध्यान में रखकर किया जाएगा |

क्या-क्या होगी खासियत :

वहीँ अगर मीडिया रिपोर्ट की माने तो मुज्ज़फरपुर रेलवे जंक्शन को विशवस्तरीय रेलवे स्टेशन बनाने के लिए सबसे पहले सभी एग्जिट पॉइंट को बंद कर दिया जाएगा | सिक्यूरिटी चेक से लेकर स्कैनर मशीन भी लगाए जाएंगे। स्टेशन के एरिया में ही दो मंजिले पर गाड़ियों की पार्किंग होगी। यात्री एयर कानकोर्स से उतरकर प्लेटफार्म पर जाएंगे। हालांकि प्लेटफार्म ग्राउंड फ्लोर पर ही रहेगा। वहीं बुजुर्ग एवं दिव्यांगों के लिए स्वचालित सीढ़ी व लिफ्ट की व्यवस्था रहेगी। वहीं स्टेशन के 8 नंबर प्लेटफार्म के आगे बने रेलवे के 14 क्वार्टरों को तोड़कर उसे ब्रह्मपुरा रेलवे कालोनी में शिफ्ट कर दिया जाएगा।