बिहार – बिजली कनेक्शन लेने के लिए जमीन का कागज नहीं होगा जरूरी, लगेंगे सिर्फ ये कागजात

दोस्तों अगर आप बिहार से है और आप बिजली का कनेक्शन लेना चाहते है | तो आपके लिए ये खबर जरूरी खबर है जी हाँ दोस्तों आपको बता दे कि अब बिजली कनेक्शन लेने के लिए आपको जमीन का कागज़ नहीं देना पड़ेगा | बिना जमीन के कागज दिए हुए आप बिजली कनेक्शन ले सकते है | बिजली कम्पनी अपने इस नियम में बड़ा बदलाव करने जा रही है | दरअसल बात यह है कि अगर आप जमीन के रशीद के बदले शपथ पत्र भी जारी कर देंगे तो आपको आसानी से बिजली मका कनेक्शन दे दिया जाएगा |

वहीँ ग्रामीण व शहरी इलाके में यह देखा जा रहा है कि लोग वर्षों से जिस जमीन पर रह रहे हैं उनके पास उसकी रसीद नहीं है। चूंकि रसीद रैयती या खरीदगी जमीन की ही होती है। ऐसे में कोई अगर गैर-मजरूआ जमीन पर रह रहा हो तो उनके पास रसीद नहीं होती। ऐसे में अगर लोग बिजली कनेक्शन के लिए आवेदन देते हैं तो उन्हें रसीद के अभाव में कनेक्शन नहीं मिल पाता है। तो इसीलिए बिजली कम्पनी ने तय किया है कि अब लोगों को शपथ पत्र के आधार पर भी न्बिजली कनेक्शन दे दिया जाएगा |

यह भी पढ़ें  बड़ी खबर : बिहार के सरकारी स्चूलों में महंगा हुआ पढ़ाई फ़ीस में करीब 300 से अधिक प्रतिशत की बढ़ोतरी !

इस बदलाव के लिए कंपनी ने बिहार विद्युत विनियामक आयोग के समक्ष प्रस्ताव दिया है। कंपनी ने इसके लिए बिहार इलेक्ट्रिक सप्लाई कोड 2007 में बदलाव करने का अनुरोध आयोग से किया है। हालांकि आयोग ने पहली सुनवाई में शंका जाहिर की है कि क्या शपथ पत्र के आधार पर कनेक्शन देने से अवैध कब्जा का मामला नहीं बढ़ेगा। 

कंपनी ने आयोग के समक्ष दलील दी है कि जिस जमीन पर लोग वर्षों से रह रहे हैं और आवेदक खुद उसका शपथ पत्र देंगे तो अवैध कब्जा का मामला सामने नहीं आएगा। कंपनी को उम्मीद है कि आयोग उसकी दलील को स्वीकारते हुए जल्द ही फैसला सुनाएगा। इसके बाद पूरे बिहार में लोग केवल शपथ पत्र व अन्य दस्तावेजों के आधार पर ही बिजली कनेक्शन ले सकेंगे।

यह भी पढ़ें  बिहारवासी को डबल-डेकर ट्रेन के रूप में मिलेगा बड़ा सौगात, जाने कब से किस रूट से होकर चलेगी