राजधानी पटना से समस्‍तीपुर के बीच महासेतु को चालू करने के लिए बनेंगे चार और छोटे पुल, जानिये क्या है प्लान?

बिहारवासी के लिए एक अच्छी खबर है खासकर पूर्वी बिहार के लोगों के लिए जैसे समस्तीपुर,वैशाली,ताजपुर,बेगुसराय,दरभंगा ,मुसरीघरारी,के लोगों को अब राजधानी पटना जाना होगा आसान क्योंकि अब बख्तियारपुर-ताजपुर पुल के निर्माण के साथ इसके एप्रोच रोड के एलायनमेंट में चार छोटे पुल और दो रेल ओवर-ब्रिज (आरओबी) का भी निर्माण कराया जाएगा। आरओबी का निर्माण समस्तीपुर जिले में होना है। इस पूल के माध्यम से पटना पंहुचना बहुत आसन हो जाएगा |

बता दे कि बख्तियारपुर-ताजपुर पुल के साथ जिन चार जगहों पर अन्य छोटे-छोटे पुलों का निर्माण कराया जाना है उनमें दो पटना जिले में भी है। धोबा नदी पर करजान में, गंगा के हिस्से में रामनगर करारी कछार में, वाया नदी पर सरहद माधो तथा नून नदी पर सारंगपुर में छोटे पुल का निर्माण कराया जाना है। ये चारों पुल बख्तियारपुर-ताजपुर पुल के एलायनमेंट का हिस्सा है।

  • बख्तियारपुर-ताजपुर पुल का निर्माण कार्य दोबारा शुरू
  • चार छोटे पुल और दो आरओबी का भी होगा निर्माण
  • पटना व समस्तीपुर जिले में होना है निर्माण
  • आरओबी का निर्माण कल्याणपुर व पटोरी में
यह भी पढ़ें  ऑफर : बिहार में बहुत सस्ता दाम में नीलाम हो रहा है शराब में जब्त किये गए वाहन जाने पूरी खबर

समस्तीपुर में दो जगहों पर बनना है आरओबी

इस पुल के एलायनमेंट के तहत समस्तीपुर के कल्याणपुर और पटोरी में रेल ओवर-ब्रिज (आरओबी) का निर्माण कराया जाना है। पुल के एप्रोच रोड वाले हिस्से में रेलवे लाइन आ रहा।

छोटे-छोटे व्हेकुलर अंडरपास सोलह की संख्या में बनेंगे

पुल की वजह से लोगों के आवागमन में किसी तरह कोई परेशानी नहीं हो, इसके लिए 16 ह्वेकुलर अंडर पास का निर्माण कराया जा रहा। इसके अतिरिक्त लोगों के पैदल आने-जाने के लिए पेडिस्ट्रयन क्रासिंग भी बनाए जा रहे।

मुख्य पुल के पूरे हिस्से में सीसीटीवी भी लगेगा

मुख्य पुल के पूरे हिस्से में सीसीटीवी लगाए जाने की व्यवस्था की इस्टीमेट में ही कर दिया गया है। इसके अतिरिक्त 10.5 किमी का सर्विस रोड भी अलग-अलग हिस्से में बनाया जाना है।  

यह भी पढ़ें  बिहार का ये लड़का ‘माथा पे बोझा लिये’ बिना हैंडल पकड़े speed में चलाता है साइकिल, आनंद महिंद्रा ने की तारीफ

बिशुनपुर और पंचभिंडा में बनेगा टोल प्लाजा

अगले 22 वर्षों तक इस पुल पर टोल लगेगा। इसके लिए बिशुनपुर और पंचभिंडा का चयन टोल प्लाजा के लिए किया गया है।