ग्रेजुएशन कम्प्लीट करने के बाद पटना विमेंस कॉलेज के बाहर ठेला लगाकर चाय बेचती है प्रियंका

दोस्तों वैसे तो सरकार कहती है कि हमारे राज्य में हमारे देश में रोजगार बढ़ी है और हमने हर वो काम किये है जिससे लोगों को रोजगार मिला है | लेकिन हालत कुछ ऐसी है कि ग्रेजुएशन कम्प्लीट करने के बाद भी रोजगार के लिए दर-दर भटकने के बाद भी रोजगार नहीं मिला तो अब पटना विमेंस कॉलेज के बाहर चाय बेचना पद रहा है | जी हाँ दोस्तों हम बात कर रहे है प्रियंका गुप्ता के बारे में जो कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर सुर्खियो में है आईये जानते है इसके बारे में पूरी डिटेल से…..

दरअसल हम बात कर रहे है बिहार के पूर्णिया जिले के रहने वाली प्रियंका गुप्ता के बारे में जिन्होंने अपनी स्नातक की शिक्षा वाराणसी के महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ से अर्थशास्त्र में ग्रेजुएशन कम्प्लीट की है | और वह दो साल से पटना में नौकरी की तैयारी कर रही थी न जाने इस दौरान उसने कितनी बार प्रतियोगी परीक्षा में भाग ली लेकिन उसको सफलता नहीं मिल पाया | फिर उसने जो किया वो वाक्य में काबिलेतारीफ है | उसने घर वापस लौटने की वजाय पटना के विमेंस कॉलेज के बाहर चाय बेचने लगी |

यह भी पढ़ें  इंटर पास करने वाली बिहार के छात्राओं के खाते में जल्‍द ही बिहार सरकार भेजेगी 25000 रुपये, जानिये डिटेल्स...
पूर्णिया की रहने वाली हैं प्रियंका

और सबको हैरानि इस बात से हो रही है कि वो अर्थशाश्त्र में ग्रेजुएट है उसके बाद भी उसको इस काम करने से कोई एतराज नहीं है | जब उससे एक इंटरव्यू के दौरान एक पत्रकार ने पूछा की आप ग्रेजुएट हो अच्छी खासी पढ़ी-लिखी हो उसके बाद भी आप ठेला पर चाय बेक रहे हो ये काम करने में आपको खराब नहीं लग रहा है | तो उसने इसका जवाब देते हुए कहा की काम कोई छोटा बड़ा नहीं होता काम काम होता है और मै इसको पूरी इमानदारी से करती हू मुझे ये काम करने में कोई खराब नहीं लगता है |

यह भी पढ़ें  बिहार में बढ़ी घर बनाने वाले लोगों की परेशानी महंगा हुआ गिट्टी बालू सीमेंट जानिये क्या है ताजा भाव?
हाल ही में खोली हैं दुकान

अपने दुकान के बैनर पर लिखी है शानदार लाइन :

प्रियंका की इस चाय की दुकान पर आपको चाय की कई वैरियाटी मिल जाएगी। जैसे कि कुल्हड़ चाय, मसाला चाया, पान चाय और चॉकलेट चाय पीने को मिल जाएगी। प्रियंका की इस दुकान पर सभी तरह की चाय की कीमत केवल 15 से 20 रुपये है। प्रियंका के प्रमुख ग्राहक स्टूडेंट्स ही हैं। वहीं ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए प्रियंका ने एक पंचलाइन रखी है ‘पीना ही पड़ेगा’ और ‘सोच मत … चालू कर दे बस’।