12 हजार करोड़ की लागत से बिहार में एक्सप्रेस-वे का चारो ओर बिछेगा जाल, होगा नए पूल का निर्माण

दोस्तों बढ़ते बिहार के में इस साल सबसे अधिक पैसा सड़क पुल इत्यादि के निर्माण में खर्च होने वाले है जिससे पूरा बिहार सहित अन्य जगह के लोगों को भी सड़क मार्ग में सफ़र आसान होगा | जी हाँ दोस्तों! आपको बता दे कि बिहार सरकार बिहार में एक्सप्रेस-वे की जाल बिछाने की तैयारी में है | बिहार में नई सड़कों के निर्माण पर विशेष बल दिया जा रहा है. इन सड़क परियोजनाओं पर हजारों करोड़ रुपये की लागत आएगी.

प्रदेश की नौ सड़कों का चौड़ीकरण किया जाएगा. बिहार सरकार इन परियोजनाओं पर 12 हजार करोड़ रुपये खर्च करेगी. प्रदेश के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने इसकी जानकारी दी. प्रदेश के पथ निर्माण मंत्री के अनुसार 30 जून 2022 तक निविदा आमंत्रित कर इन परियोजनाओं के काम को आवंटित कर दिया जाएगा. इसके बाद जल्‍द ही काम शुरू हो जायेंगे |

यह भी पढ़ें  अच्छी खबर : बिहार में बहुत जल्द बनकर तैयार होंगे चार नए एक्सप्रेस-वे दिल्ली-मुंबई जाना होगा आसान

वहीँ बिहार सरकार के वर्तमान वर्तमान पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन का कहना है कि बिहार में अभी बहुत सड़क को दुरुस्त किया जाना है | इनमें राजधानी पटना के कई क्षेत्र शामिल है जैसे :- दानापुर-बिहटा एलिवेटेड पथ भी शामिल है. इसके साथ ही पटना रिंग रोड के अंतर्गत आने वाले शेरपुर-दिघवारा के पास गंगा नदी पर पुल का भी निर्माण होगा. इस पर सैकड़ों करोड़ रुपये की लागत आने का अनुमान है |

पटना रिंग रोड बनने के बाद आवागमन और ही आसान हो जाएगा. इसके साथ ही अदलवारी-मानिकपुर पथ को भी 4 लेन बनाया जाएगा. इस सड़क के चौड़ीकरण होने के साथ ही इस रूट को और दुरुस्‍त किया जाएगा, ताकि वाहनों की रफ्तार बढ़ सके |

यह भी पढ़ें  बिहार की राजधानी पटना में अब नहीं लगेगी जाम, क्योंकि होगा छः सड़कों का निर्माण

पुरे बिहार में बिछेगा सड़कों का जाल :

बिहार में सड़कों का जाल बिछाने की तैयारी है. इस योजना के तहत मानिकपुर-साहेबगंज रोड को और चौड़ा किया जाएगा. इस पथ को अब 4 लेन बनाया जाएगा. साहेबगंज-अरेराज पथ को भी 4 लेन बनाने की योजना है. इसकी रूपरेखा भी तैयार कर ली गई है. टेंडर आवंटित करने के साथ ही इस पर काम शुरू कर दिया जाएगा.

सीवान, सहरसा, किशनगंज में भी सड़कें होंगी चौड़ीकरण

सीवान, सहरसा और किशनगंज में भी कई सड़कों को चौड़ीकरण किया जाएगा. राम-जानकी मार्ग के तहत आने वाली सीवान-मशरख सड़क को चौड़ीकरण करने की योजना है. इस रोड को 4 लेन बनाया जाएगा. वहीं, बहादुरगंज-किशनगंज पथ को भी 4 लेन का करने की योजना है. सहरसा से उमगांव तक जाने वाली सड़क को 2 लेन बनाया जाएगा. पथ निर्माण मंत्री के अनुसार भारतमाला परियोजना के तहत शेष बचे 373 किलोमीटर की सड़क निर्माण को शीघ्र ही स्वीकृति मिल जाएगी.

यह भी पढ़ें  बिहार में रेलवे इन रूटों पर खर्च करेगा 500 करोड़ रुपया जानिये क्या है रेलवे की पूरी प्लान?

इसके निर्माण हो जाने से इन लोगों को होगा अधिक लाभ :

पटना, अरवल, औरंगाबाद,कटिहार,किशनगंज, कैमूर, खगड़िया ,गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, दरभंगा, नवादा, नालंदा, पश्चिमी चम्पारण, पूर्णिया, पूर्वी चम्पारण, बक्सर, बाँका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, मुजफ्फरपुर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा !