काम की बात : अपनी कार को इस तरह बनाइए इलेक्ट्रिक कार नहीं आएगा पेट्रोल-डीजल का बिल

अभी देश महंगाई की मार से परेशान है और उसमे सबसे अधिक लोग परेशान है पेट्रोल-डीजल से जी हाँ दोस्तों पेट्रोल-डीजल हर लोगों की जरूरत और उसका ही रेट दिन पर दिन बढ़ते जा रहा है | लोग पेट्रोल-डीजल के खर्चे से बचने के लिए इलेक्ट्रिक की तरफ शिफ्ट होते जा रहे है | इसलिए लोग अब किफायती ईंधन वाले व्हीकलों की ओर रुख कर रहे हैं. ऐसे में लोग पेट्रोल-डीजल की जगह इलेक्ट्रिक कार खरीदना पसंद कर रहे हैं |

हालांकि जिन लोगों के पास पहले से कार वे भी अपनी कार को इलेक्ट्रिक कार में कन्वर्ट करा सकते हैं. हालांकि, इलेक्ट्रिक किट में आने वाला खर्च बहुत ज्यादा होता है, लेकिन आप एक बार रुपए खर्च कर भविष्य में इससे लाखों रुपए आसानी से बचा सकते हैं. क्योंकि इलेक्ट्रिक व्हीकल को चलाने की लागत और मेंटेनेंस काफी कम होता है.

यह भी पढ़ें  Sahara India Refund: सहारा इंडिया में फंसे हैं आपके भी पैसे? अब तत्काल मिलेगा फायदा, सरकार ने बताया तरीका

यह भी पढ़ें खुशखबरी! मोदी सरकार आपको देगी 10 हजार रुपये, लाभ उठाने के लिए घर बैठे करना होगा बस ये काम
खैर, ऐसी कंपनियां हैं जो आपकी फ्यूल कार को 4 से 5 लाख रुपए की लागत में इलेक्ट्रिक कार में बदल सकते हैं. इसमें आने वाला खर्च मोटे तौर पर मोटर की क्षमता और बैटरी क्षमता पर ज्यादा डिपेंड करता है. एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 12 किलो वाट की लिथियम-आयन बैटरी और 20 किलोवाट की इलेक्ट्रिक मोटर की कीमत 4 लाख रुपए तक हो सकती है |

जानिये कैसे होगी कन्वर्ट

अगर आप भी अपनी चार को इलेक्ट्रिक में शिफ्ट करना चाहते है तो आपको बता दे की चार को फ्यूल कार को इलेक्ट्रिक में कन्वर्ट करने वाली कम्पनी ज्यदातर हैदराबाद में है | इनमें प्रमुख ईट्रायो (etrio) और नॉर्थवेएमएस (northwayms) प्रमुख हैं. ये दोनों कंपनियां किसी भी पेट्रोल या डीजल कार को इलेक्ट्रिक कार में कन्वर्ट करती हैं. इसके अलावा दिल्ली में भी कई ऐसी कंपनियां हैं,

यह भी पढ़ें  बिहार के पहली हेरोइन नीतू चंद्रा को हॉलीवुड सिनेमा में मिला लीद रोल, CM नितीश कुमार ने दी शुभकामनाये


जो फ्यूल व्हीकल को इलेक्ट्रिक व्हीकल में बदलने का काम करती हैं. आप वैगनआर, ऑल्टो, डिजायर, i10, स्पार्क या दूसरी कोई भी पेट्रोल या डीजल कार इलेक्ट्रिक में कन्वर्ट करा सकते हैं. कारों में इस्तेमाल होने वाली इलेक्ट्रिक किट लगभग एक जैसी होती है. हालांकि रेंज और पावर बढ़ाने के लिए बैटरी और मोटर में फर्क आ सकता है.

कम आएगा खर्च

कन्वर्ट के बाद कार को चलाने में आने वाले खर्च की बात करें तो उसमें आपको काफी अंतर देखने मिलेगा. उदाहरण के लिए Tata Nexon को लेते हैं, जो पेट्रोल, डीजल और इलेक्ट्रिक पर भी चलती है. Nexon का इलेक्ट्रिक वर्जन दिसंबर 2019 में पेश किया गया था. Nexon का फ्यूल वर्जन पेट्रोल और डीजल में 16 से 22 किलोमीटर का माइलेज देता है. पेट्रोल की कीमत ₹ 100 प्रति लीटर और माइलेज 16 किमी/ली पर देखते हुए, कार की लागत लगभग 6.25 पैसे प्रति किलोमीटर होगी. डीजल ₹95 लीटर और माइलेज 22 किमी/लीटर के साथ, लागत ₹4.31 प्रति किलोमीटर आती है.

यह भी पढ़ें  तीन-चार दिनों बाद मिली यात्रिओ को राहत सिकंदराबाद भागलपुर इंटरसिटी समेत कई और ट्रेनों का शुरू हुआ परिचालन

अब Nexon के इलेक्ट्रिक वर्जन के साथ अगर हम 6 रु,/यूनिट को बिजली की लागत के रूप में मानते हैं तो इसे पूरी तरह चार्ज करने के लिए ₹181.2 खर्च होंगे. फिर यह लगभग 300 किमी तक दौड़ेगी. इस तरह इसकी कीमत प्रति किलोमीटर 60 पैसे के करीब होगी. इस तरह आप दो या तीन साल में इलेक्ट्रिक किट लगवाने में आने वाले खर्च के बराबर सेविंग कर पाएंगे.