अखंड भारत का सपना जल्द होगा साकार 350 किलोमीटर की प्रतिघंटे के स्पीड से बुलेट ट्रेन का होगा परीक्षण

दोस्तों राजधानी पाना का सपना बहुत जल्द साकार होने वाला है जी हाँ दोस्तों आपको बता दे कि कुछ दिनों में बुलेट ट्रेन का परीक्षण किया जाएगा | जिसका स्पीड किसी विमान से कम नहीं होता है करीब 350 किलोमीटर प्रतिघंटा की स्पीड से से इसका ट्रायल किया जाना है | इस बात की जानकारी अभी दी गई है कि इसका परिक्षण बहुत जल्द किया जाना है | सबसे पहले इसका परिक्षण गुजरात के बिलिमोरा और सूरत के बीच करीब चार साल बॉस वर्ष 2026 में किया जाना है |

वहीँ अगर हम ट्रेन की गति के बारे में बात करें तो ट्रेन का परिचालन 320 किलोमीटर प्रतिघंटा के स्पीड से होना है | एक अधिकारी ने कहा कि यह परियोजना यात्रियों के लिए तथा हवाई यात्रा से प्रतिस्पर्धा के लिहाज से बड़ा बदलाव लाने वाली होगी. उन्होंने कहा कि बुलेट ट्रेन में चढ़ने में यात्रियों को कम समय (चैक-इन टाइम) लगेगा, अधिक जगह होगी और इन सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण कनेक्टिविटी होगी जो विमानों में सवार रहने के दौरान नहीं मिलती.

यह भी पढ़ें  सहारा के ग्राहकों के लिए अच्छी खबर - अब ब्याज सहित वापस मिलेगी निवेशकों का पैसा जानिये लेटेस्ट अपडेट

साढ़े तीन सौ की रफ़्तार से होना है परिक्षण :

जानकारी के मुताबिक बता दे कि अधिकारिओ का कहना है कि पहला परिक्षण 350 किलोमीटर प्रतिघंटे के स्पीड से किया जाएगा | लेकिन इसका परिचालन 320 किलोमीटर प्रतिघंटे से ही होगा | वही उन्होंने बताया कि ये ट्रेनें ‘स्लैब ट्रैक प्रणाली’ वाली विशेष पटरियों पर दौड़ेगी जिसे पटरियों के निर्माण की एचएसआर तकनीक कहा जाता है और इसका पेटेंट जापानियों के पास है. अधिकारी ने कहा कि बुलेट ट्रेन इन पटरियों पर 350 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से दौड़ने के लिहाज से फिट रहेंगी.