अच्छी खबर : बिहार के इस जिले में 984 करोड़ की लागत से बन रहा देश का सबसे लम्बा सड़क पुल

बिहारवासी के लिए एक अच्छी खबर है जी हाँ दोस्तों आपको बता दे कि बिहार में सबसे लम्बा सडक पूल का निर्माण किया जा रहा है | और यह पूल का निर्माण बिहार के सुपौल के बकौर से और मधुबनी जिले के भेजा के बीच बनाया जा रहा है | वहीँ अगर हम वर्तमान की बात करें तो वर्तमान में भारत का सबसे लम्बा सड़क पूल असम में है | जिसकी कूल लम्बाई 9.15 किलोमीटर है | लेकिन कुछ दिनों बाद जब ये पूल का निर्माण हो जाएगा तो यह पूल भारत का सबसे लम्बा पूल कहलायेगा |

यह भूपेन हजारिका पुल से भी करीब 1 किलोमीटर ज्यादा लंबा होगा |इस पुल के निर्माण के बाद सुपौल से मधुबनी की दूरी लगभग 30 किलोमीटर तक कम हो जाएगी, फिलहाल मधुबनी जाने के लिए सुपौल से 100 किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ती है जो घटकर 70 किमी ही रह जाएगी।

यह भी पढ़ें  बिहार के इस जिले में बहुत जल्द बनकर तैयार होगा फिल्मसिटी जानिये क्या-क्या मिलेगी सुविधा?

दरअसल बिहार का शोक कही जाने वाली कोसी नदी पर बिहार के मधुबनी के उमगांव से महिषी तारापीठ (सहरसा) के बीच बन रहे फोरलेन सड़क के एलाइनमेंट में यह पुल बन रहा है। कोसी सुपौल जिले के बकौर से मधुबनी जिले के भेजा के बीच देश के सबसे लंबा सड़क पुल का निर्माण शुरू हो गया है।

साल 2023 तक बनकर होगा तैयार :

निर्माणाधीन यह पुल कई दृश्टिकोण से महत्वपूर्ण है, पुल के निर्माण के बाद नेपाल, बांग्लादेश और भूटान के साथ उत्तर-पूर्व के राज्यों को जोड़ेगा। महामारी की वजह से निर्माण की प्रक्रिया धीमी जरूर हुई थी लेकिन बताया जा रहे कि दिसंबर 2023 तक पुल निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें  एयरपोर्ट और मेट्रो में दिखेगी बिहार के पर्यटन स्थलों की झलक, होर्डिंग, बैनर-पोस्टर लगाएगा विभाग

इस पूल के निर्माण हो जाने से इन जिलों को मिलेगा लाभ :

औरंगाबाद,कटिहार,किशनगंज, कैमूर, खगड़िया ,गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, दरभंगा, नवादा, नालंदा, पटना पश्चिमी चम्पारण, पूर्णिया, पूर्वी चम्पारण, बक्सर, बाँका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, मुजफ्फरपुर, रोहतास,