हद हो गया : बिहार में 60 फिट लम्बा पुल चोर चुरा के ले गये, JCB और ट्रक से आया थे चोर, जानिये पूरी मामला

दोस्तों अगर हम आपको कहे की बिहार में दिन-दहाड़े 60 फीट लंबा 10 फीट चौड़ा एवं बारह फीट ऊँचे पूल चोरी हो गया तो आपको लगेगा हम कैसी बात कर रहे है | लेकिन यह सच्चाई है जी हाँ दोस्तों बिहार के सासाराम के नासरीगंज में एक नहर पर वर्षो पुराना एतिहासिक पूल था | जिसको चोर ने चुरा लिया इतना ही नहीं चोर ने उसे चोरी करने के लिए जेसीबी ट्रक भी लेके आया था लेकिन इस बात की खबर विभाग को बिलकुल भी नहीं लगीं |

दरअसल यह पूल बिहार के सासाराम के नसीरगंज स्थित अमिव्यर गाँव में सोन नहर के लिए बना था जो कि आरा मुख्य नहर पर स्थित कंक्रीट के पुल के समानांतर लगभग पचीस फीट की दूरी पर था। जिसे चोर ने jcb से उखड लिया और अपने वाहन में लाड कर दुसरे जगह ले गया | बता दे कि इस पूल में लोहे का अनुमान है कि कम से कम 20 टन लोहा इस पुल से उस चोर को प्राप्त हुआ होगा | वहीँ जब ग्रामीण ने पूछा तो पूल उखाड़ने वाला ग्रामीण को अपने आपको सिंचाई विभग का अधिकारी बताया |

यह भी पढ़ें  उड़ीसा की लड़की को बिहार में मिला उसका बिछड़ा प्यार, पुलिस ने किया कुछ ऐसा कि बोले प्रेमी-प्रेमिका

जानकारी के मुताबिक सैंकड़ों सालों से लोग गांव के उस पार आने-जाने के लिए नाव से नहर पार करते थे। इसी क्रम में वर्ष 1966 में यात्री से भरी नाव नहर के गहरे पानी में डूब गई। इस हादसे में दर्जन भर लोगों की जान चली गई थी। जिसके बाद 1972 से 1975 के बीच नहर पर उक्त लोहे के पुल का निर्माण तत्कालीन सरकार ने कराया था। पुल के आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त होने पर इसके समानांतर कंक्रीट पुल का निर्माण हुआ।

वहीँ ग्रामवासी का आरोप है की यह पोल अधिकारी के मिलीभगत से उठाया गया है बता दे कि इससे पहले वहां के स्थानीय मुखिया ने पूल को हटाने को लेकर आवेदन दिया था लेकिन बिना कोई कानूनी प्रक्रिया के यह पूल को अवैध तरह से उखाड़ कर चोरी कर लिया गया |

यह भी पढ़ें  बिहार में मैट्रिक पास बच्चे का इंतजार हुआ खत्म 22 जून से इंटर में एडमिशन के लिए होगा ऑनलाइन आवेदन