बड़ी खबर : बिहार के सरकारी स्चूलों में महंगा हुआ पढ़ाई फ़ीस में करीब 300 से अधिक प्रतिशत की बढ़ोतरी !

बिहार में सरकारी स्कूल में पढने वाले बच्चे के लिए ये खबर बेहद ही अहम है | जी हाँ दोस्तों आपको बता दे कि बिहार के सरकारी स्कूल में अब पढना होगा महंगा खबर ये है कि राज्य के उच्च विद्यालय में में नए एडमिशन लेने वाले बच्चे को पीला की अपेक्षा और अधिक शुल्क देना होगा | कक्षा 9वीं और 11 वीं में प्रवेश शुल्क बढ़ाकर 50-50 कर दिया गया है अभी 9वीं में प्रवेश शुल्क केवल 20 और 11वीं में प्रवेश शुल्क 15 रुपये लिया जाता था.

वहीँ शिक्षा विभाग ने सरकारी शुल्क के हिसाब से बताया है कि 11वी में विकास शुल्क 160 की जगह अब 200 रुपये लिए जाएंगे. ओवरऑल के स्ट्रक्चर में बढ़ोतरी को देखते हुए नए सत्र में नौवीं में एडमिशन लेने वाले स्टूडेंट्स को 181 और 11वीं में एडमिशन लेने वाले स्टूडेंट्स को 165 रुपये ज्यादा चुकाने होंगे. और विभाग ने जो नोटिफिकेशन जारी किया है उसके अनुसार अब बच्चो को मनोरंजन के लिए फ़ीस देनी होगी जबकि पहले इसके लिए कोई फ़ीस नहीं लगता था |

कक्षा 9 का मनोरंजन फ़ीस 20 रुपया देना होगा जबकि 11 क्लास के बच्चे को 60 रुपया देना पड़ेगा | इतना ही नहीं उच्च विद्यालय के छात्र को विद्यालय के रखरखाव के लिए 50 रूपये अलग से देने होंगे | और बता दे कि ये फ़ीस बच्चो को नया जोड़ा गया है | पहले ऐसा कोई प्रक्रिया नहीं था | लेकिन अब बच्चो को विद्यालय के रख्ररखाव हेतु भी राशि अदा करनी पड़ेगी |