दिन पर दिन टूट रहा महंगाई का रिकॉर्ड गैस सिलेंडर के बाद अब राशन समाग्री के बढे दाम !

देश महंगाई दिन पर दिन परेशान है जिससे आम लोगों में काफी बौखलाहट है | पहले पेट्रोल-डीजल फिर गैस सिलेंडर ऐसे करते-करते हर बीते दिन कोई न कोई समग्री पर दाम बढ़ते जा रहे है | खासकर, पेट्रोल-डीजल रसोई सिलेंडर के दाम तो आसमान छूटे नजर आ रहे है | अब लोगों के लिए एक और बुरी खब्त है खबर यह है कि अब राशन की समाग्री जैसे :-आटा, नामक इत्यादि का दाम बढ़ते नज़र आ रहे है |

कच्चे तेल की दाम बढ़ने की एक बड़ी वजह बताई जा रही है रूस और युक्रेन में लगातार युद्ध जारी है | और भारत को युक्रेन अधिक मात्रा में कच्चे तेल देता था लेकिन अभी युद्ध के चलते ये डील नहीं हो पा रहा है | दोस्तों इस युद्ध से सिर्फ रूस और युक्रेन को नुक्सान नहीं है बल्कि दुनिया के और भी देश को नुक्सान है | हा ये बात सच है की रूस और युक्रेन को सबसे अधिक नुक्सान है | मीडिया रिपोर्ट के अनुसार :- 23 फरवरी को भारत में सूरजमुखी तेल (पैक) की औसत कीमत 151.08 रुपये Kg थी। अब 23 मार्च को सूरजमुखी तेल की कीमत 20.72 फीसद उछलकर 182.38 रुपये पर पहुंच गई। इसकी तरह 148.09 रुपये में एक किलो मिलने वाला सोया ऑयल 9.83 फीसद महंगा होकर 162.64 रुपये पर पहुंच गया।

यह भी पढ़ें  सरसों तेल के दाम में आई गिरावट 1 लीटर पर बचेंगे 15 से 20 रुपया, जाने क्या है ताजा भाव?

इन सबके विपरीत इस अवधि में सरसों के तेल में 0.19 फीसद की मामूली बढ़ोतरी हुई है। बता दे की सबकी मूलभूत आवश्यकताओं में शामिल आटा, चावल और गेहूं के भाव भी बढ़ गए हैं। यहां तक कि नमक भी 1.21 फीसद महंगा हो गया है। इस एक महीने में चावल के रेट में जहां औसतन 2.04 फीसद का इजाफा हुआ है, वहीं गेहूं का आटा 2.17 फीसद महंगा हुआ है। दोस्तों अभी ये सभी चीज का दाम घटने को लेकर कोई उम्मीद नहीं है |