अयोध्या के बाद अब बिहार में बनेगा विशाल राम मंदिर मुस्लिम युवक ने दान किया अपनी ढाई करोड़ की जमीन

इस वक़्त की सबसे बड़ी खबर बिहार के पूर्वी चम्पारण से आ रही है | जी हाँ दोस्तों अब बिहार में भी बनने वाला है दुनिया के सबसे ऊँचे राम मंदिर जैसा की हम सबको उत्तर प्रदेश में भी एक विशाल राम मंदिर का निर्माण की कार्य चल रही है | दरअसल इस मंदिर निर्माण के लिए एक मुस्लिम परिवार ने अपने हिस्से की हममें दान कर दी बता दे कि यह जमीन की कीमत करीब ढाई करोड़ रूपये है | जिस शख्स ने इस जमीन को मंदिर बनने के लिए दान किया है | उनका नाम है मोहम्मद इश्ताक अहमद यह पेशे से एक वय्व्साई है | और बता दे कि यह जमीन पूर्वी चम्पारण के कैथवलिया में बनाया जाएगा |

यह भी पढ़ें  आसानी चक्रवात के बीच बिहार के इन जिलों के लिए मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट जानिये क्या है अपडेट

ढाई करोड़ से भी अधिक है जमीन की कीमत.

जानकारी के अनुसार बता दे कि आस्था के नाम पर बन रही प्रभु श्री राम जी का ये मंदिर के लिए गाँव के ही मुस्लिम युवक ने करीब ढाई करोड़ की जमीन को इस मंदिर के निर्माण के लिए दान में दे दिया | हाल ही में कुछ दिन पहले जमींदार इश्ताक अहमद ने अपनी 23 कठ्ठा जमीन को मंदिर के नाम पर दान कर दिया है | सरकारी रेट क्ले अनुसार इसका मूल्य ढाई लाख रूपये है | बता दे कि इसकी जानकारी खुद उस युवक ने मीडिया को सामने आकर दी है |

यह भी पढ़ें  बिहार के लाल गौरव कुमार ने बढ़ाया बिहार का मान UPSC में मिली शानदार सफलता सब दे रहे बधाईयाँ

130 एकड़ में बनेगा शानदार राम मंदिर

वहां के पुजारी का कहना है कि की इस मंदिर के निर्माण होने में बहुत सारे लोगों ने सहयोग की है | कई लोगो ने अपनी जमीन भी दी है लेकिन अभी तक सबसे बड़ी सहयोग इश्ताक अहमद ने ही किया है | अपनी 23 कठ्ठा जमीन दान करके | ये समाज इनका ये उपकार कभी नहीं भूलेगा | उन्होंने आगे बताया की इस भव्य राम मंदिर का निर्माण सबसे विशाल एवं सबसे अलग होगा इसके लिए अभी तक करीब 100 एकड़ की जमीन की जुगाड़ हो गई है वहीँ अब 30 एकड़ की तलाश है बता दे की यह राम मंदिर 130 एकड़ की जमीन में बनेगा |