बहुत तेजी से बढ़ रही महंगाई सरसों, सोयाबीन, मूंगफली तेल हुआ रिकॉर्डतोड़ महंगा जाने ताजा भाव?

पूरा देश महंगाई की मार से परेशान है हर चीज महंगा होते जा रही है | महंगाई होने की एक वजह महामारी भी बताई जा रही है | बताई जा रही है कि महामारी में लगभग दो सालों तक सभी के काम ठप रहे जिसके वजह से सभी लोगों को नुक्सान पंहुचा है | जितने भी बैंकों में लोग अपने भविष्य के लिए पैसा सेव करके रखे थे वो सभी खत्म हो गये है | और अब देश में सभी चीजे महंगे होती जा रही है अब ऐसे में आम लोगों का जीना हराम हो गया है | बता दे की महंगाई का एक अहम हिस्सा पेट्रोल-डीजल सरसों की तेल और एलपीजी गैस भी है |

वहीँ अब खबर आ रही है कि विदेशों की बजारों में  जोरदार तेजी के बीच घरेलू तेलों की मांग बढ़ने के कारण दिल्ली तेल-तिलहन बाजार में बुधवार को सरसों, सोयाबीन तेल-तिलहन सहित लगभग सभी तेल-तिलहन कीमतों में सुधार दर्ज हुआ।वहीं, इंदौर के खाद्य तेल बाजार में मंगलवार को मूंगफली तेल 50 रुपये और सोयाबीन रिफाइंड के भाव में 60 रुपये प्रति 10 किलोग्राम की तेजी हुई। आज पाम तेल 50 रुपये प्रति 10 किलोग्राम महंगा बिका।

रूस युक्रेन युद्ध से भी पड़ा है असर

अभी वर्तमान में रूस और युक्रेन के बीच युद्ध चल रही है | इस युद्ध में सिर्फ और सिर्फ रूस और युक्रेन को ही घटा नहीं है बल्कि बाकी के और भी देशो को नुक्सान है बता दे कि रूस और युक्रेन को तो नुक्सान है ही लेकिन बाकी के देश जो उनसे सामन लेते थे वो सभी लेनदेन की प्रक्रिया अभी फिलहाल बंद है | वहीँ सूरजमुखी तेल के भाव में रिकॉर्डतोड़ तेजी आई है। सूरजमुखी तेल का भाव 2,150 डॉलर प्रति टन के रिकॉर्ड स्तर पर जा पहुंचा है। सूरजमुखी तेल की अनुपलब्धता होने के बीच दक्षिण भारत के राज्यों में सस्ता होने के कारण सरसों और मूंगफली तेल की चौतरफा खपत हो रही है।

यह भी पढ़ें  राजधानी पटना के उत्तर प्रदेश तक की शुरू होगी बस सेवा तैयारी शुरू, जानिये क्या होगा किराया

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मंडियों में सरसों की 10-12 लाख बोरी की भारी आवक के बीच अधिकांश सरसों से रिफाइंड बनाये जाने के कारण सरसों तेल-तिलहन के भाव भी मजबूत हो गये। सरसों के मुकाबले आयातित तेलों के लगभग 10 रुपये प्रति किलो महंगा होने से सरसों पर भारी दबाव है और बड़ी मात्रा में सरसों से रिफाइंड बनाया जा रहा है जिससे आगे जाकर सरसों के मामले में दिक्कत आ सकती है।

 दिल्ली मंडी में थोक भाव इस प्रकार रहे-  (भाव- रुपये प्रति क्विंटल) 

  •      सरसों तिलहन – 7,675-7,700 (42 प्रतिशत कंडीशन का भाव) रुपये। 
  •      मूंगफली – 6,725 – 6,820 रुपये। 
  •      मूंगफली तेल मिल डिलिवरी (गुजरात) – 15,800 रुपये। 
  •      मूंगफली साल्वेंट रिफाइंड तेल 2,610 – 2,800 रुपये प्रति टिन। 
  •      सरसों तेल दादरी- 16,250 रुपये प्रति क्विंटल। 
  •      सरसों पक्की घानी- 2,325-2,400 रुपये प्रति टिन।
  •      सरसों कच्ची घानी- 2,545-2,350 रुपये प्रति टिन।     
  •       तिल तेल मिल डिलिवरी – 17,000-18,500 रुपये।   
  •      सोयाबीन तेल मिल डिलिवरी दिल्ली- 17,200 रुपये। 
  •      सोयाबीन मिल डिलिवरी इंदौर- 16,850 रुपये। 
  •      सोयाबीन तेल डीगम, कांडला- 16,000। 
  •      सीपीओ एक्स-कांडला- 15,000 रुपये। 
  •      बिनौला मिल डिलिवरी (हरियाणा)- 15,400 रुपये। 
  •      पामोलिन आरबीडी, दिल्ली- 16,800 रुपये। 
  •      पामोलिन एक्स- कांडला- 15,600 रुपये (बिना जीएसटी के)। 
  •      सोयाबीन दाना – 7650-7700 रुपये। 
  •      सोयाबीन लूज 7,350-7,450 रुपये। 
  •      मक्का खल (सरिस्का) 4,000 रुपये। 
यह भी पढ़ें  बड़ी खबर : आम आदमी की जेब पर पड़ेगा सीधा असर बढ़ा सरसों तेल का दाम, जानिये क्या है ताजा भाव?

इंदौर में मूंगफली तेल, सोयाबीन रिफाइंड के भाव में तेजी

तिलहन

  • सरसों (निमाड़ी) 6100 से 6200,
  • नया रायड़ा 6400 से 6500,
  • सोयाबीन 6000 से 6400 रुपये प्रति क्विंटल।

तेल 

  • मूंगफली तेल इंदौर 1600 से 1610,
  • सोयाबीन रिफाइंड इंदौर 1610 से 1620,
  • सोयाबीन साल्वेंट 1575 से 1580,
  • पाम तेल 1655 से 1660 रुपये प्रति 10 किलोग्राम।

कपास्या खली

  • कपास्या खली इंदौर 2225,
  • कपास्या खली देवास 2225,
  • कपास्या खली उज्जैन 2225,
  • कपास्या खली खंडवा 2200,
  • कपास्या खली बुरहानपुर 2200 रुपये प्रति 60 किलोग्राम बोरी।
  • कपास्या खली अकोला 3300 रुपये प्रति क्विंटल। 

इंदौर में मसूर के भाव में वृद्धि, मूंग की दाल महंगी

यह भी पढ़ें  10 से 20 रुपये प्रति लीटर सस्ता हो गए सरसों तेल, लोगों के बचेंगे प्रतिमाह 1000 रूपये

स्थानीय संयोगितागंज अनाज मंडी में बुधवार को मसूर के भाव में 125 रुपये प्रति क्विंटल की वृद्धि हुई। आज मूंग की दाल 100, मूंग मोगर 100 रुपये और मसूर की दाल 50 रुपये प्रति क्विंटल महंगी बिकी।

दलहन   

  • चना (कांटा) 5100 से 5150,
  • मसूर 6500 से 6550,
  • तुअर (अरहर) निमाड़ी (नई) 5400 से 6300, तुअर सफेद (महाराष्ट्र) 6350 से 6500, तुअर (कर्नाटक) 6500 से 6650,
  • मूंग 7200 से 7400, मूंग हल्की 6000 से 6800,
  • उड़द 6800 से 7000, उड़द मीडियम 5500 से 6000, उड़द हल्की 2500 से 4500 रुपये प्रति क्विंटल।

दाल

  • तुअर (अरहर) दाल सवा नंबर 8400 से 8500,
  • तुअर दाल फूल 8600 से 8800, 
  • तुअर दाल (नई) 9100 से 9800,
  • आयातित तुअर दाल 8200 से 8300,
  • चना दाल 6000 से 6600,
  • मसूर दाल 7950 से 8250,
  • मूंग दाल 8700 से 9000,
  • मूंग मोगर 9100 से 9400,  
  • उड़द दाल 7900 से 8200, 
  • उड़द मोगर 9000 से 9400 रुपये प्रति क्विंटल।

चावल

  • बासमती (921) 9500 से 10000,
  • तिबार 8000 से 8500,
  • दुबार 7000 से 7500,
  • मिनी दुबार 6000 से 6500, 
  • मोगरा 3500 से 5500, 
  • बासमती सैला 6000 से 8500, 
  • कालीमूंछ 7000 से 7500
  • राजभोग 6400 से 6500,
  • दूबराज 3500 से 4000,
  • परमल 2500 से 2700, 
  • हंसा सैला 2450 से 2600, 
  • हंसा सफेद 2300 से 2450, 
  • पोहा 3300 से 3800 रुपये प्रति क्विंटल।