इस समीकरण के जरिये दूसरी बार टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेल सकता है भारत, जानें क्या हैं समीकरण?

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल 2023 में खेला जाना है, वैसे तो भारत के लिए फाइनल की राह मुश्किल है लेकिन इंडियन क्रिकेट टीम अपनी मेहनत के बल से टॉप दो टीमों में अपना जगह बना सकती है क्यूंकि आने वाले सात में से छह मैच भारत को एशिया में खेलने हैं।

मोहाली में श्रीलंका के विरुद्ध टीम इंडिया की जीत ने पॉइंट्स को बेहतर बना दिया है। हालांकि, टीम इंडिया अभी भी पांचवें स्थान पर बनी हुई है। इंडियन टीम को फाइनल में जगह बनाने के लिए आने वाले टेस्ट चैंपियनशिप के सातों मुकाबलों में अच्छा प्रदर्शन करना होगा ।

पिछले साल 2021 में टीम इंडिया शानदार प्रदर्शन की वजह से फाइनल में जगह बना पाई थी लेकिन फाइनल के जीत का स्वाद नहीं मिला पाया था। न्यूजीलैंड ने टीम इंडिया को फाइनल में आठ विकटों से हरा दिया था। जिसको सुधारने का मौका टीम इंडिया को इस साल एक बार फिर मिल सकता है पर रास्ता बहुत ही कठिन है।

यह भी पढ़ें  टीम इंडिया के वन दे सीरीज हारने पर फूटा गंभीर का गुस्सा कहा-Playing 11 में इन प्लेयर्स को दो मौका

भारत ने अब तक विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में 54.16 प्रतिशत अंक हासिल किए हैं। वहीँ ऑस्ट्रेलिया की टीम 77.77 फीसदी अंकों के साथ पहले पायदान पर बरकरार है। इसके बाद पाकिस्तान 66.66 फीसदी अंकों के साथ दूसरे, श्रीलंका भी 66.66 फीसदी अंकों के साथ तीसरे और दक्षिण अफ्रीका 60 फीसदी अंकों के साथ चौथे स्थान पर मौजूद है।

टेस्ट चैंपियनशिप में भारत के सात मैच बाकी

अगले साल 2023 में टेस्ट चैंपियनशिप का दूसरा फाइनल खेला जाना है । इससे पहले भारत को श्रीलंका के खिलाफ बेंगलुरु में होने वाले डे-नाइट टेस्ट मैच के अलावा सात टेस्ट खेलने हैं। इन सात में छह मैच एशिया में होने वाले हैं। भारत को इंग्लैंड में एक टेस्ट, बांग्लादेश में दो टेस्ट और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने देश में चार टेस्ट मैच खेलने हैं।

यह भी पढ़ें  करोड़ों के मालिक होने के बाद भी जमीन से जुड़े हैं MS Dhoni, देखिये माही का देसी अंदाज़

भारत के लिए क्या है फाइनल का समीकरण ?

भारत के पूर्व क्रिकेटर और जाने माने कमेंटेटर आकाश चोपड़ा ने अपने चैनल पे वीडियो अपलोड करते हुए  अपनी बातों को शेयर किया और बताया है कि भारत के लिए विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का राह कितनी मुश्किल है। उन्होंने कहा है कि अगर भारत को फाइनल में जगह बनानी है तो उसे ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सभी चार मैच जीतने होंगे।

उन्होंने यह भी कहा कि श्रीलंका के खिलाफ भारत का 2-0 से जीतना लगभग तय है। बांग्लादेश के खिलाफ सीरीज में भी टीम इंडिया के जीतने की संभावनाएं काफी ज्यादा हैं। हालांकि, इंग्लैंड में होने वाले एकमात्र मैच को जीतना भारत के लिए सबसे बड़ी चुनौती होने वाली है।

यह भी पढ़ें  Jasprit Bumrah के उप कप्तान बनने पर उठे सवाल, ये 2 प्लेयर थे असली हकदार?

न्यूजीलैंड का फाइनल में पहुंचना मुश्किल

आकाश  चोपड़ा ने अपने वीडियो में आगे कहा कि वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का पहला फाइनल जीतने वाली न्यूजीलैंड की टीम के लिए इस बार फाइनल में जगह बनाना बहुत मुश्किल होगा। न्यूजीलैंड की टीम को आने वाले समय में सिर्फ दो टेस्ट अपने घर पर खेलने हैं। इसके बाद उसे इंग्लैंड और पाकिस्तान में जाकर उनके खिलाफ मैच को खेलना है, जहां उसके जीतने की संभावनाएं कम हैं।

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की अंकतालिका में न्यूजीलैंड की टीम भारत से भी नीचे है। आकाश चोपड़ा के अनुसार पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया फाइनल खेलते नज़र आ सकतीं हैं।  इस दोनों में से एक टीम का फाइनल खेलना लगभग तय है। वहीं भारत तीसरी टीम है, जो फाइनल के लिए अपनी दावेदारी पेश कर सकती है।