रोहित शर्मा का बड़ा खुलासा, जडेजा डबल सेंचुरी लगाने से पहले पारी घोषणा करने का फैसला आखिर किसका था ?

अभी टीम इंडिया अच्छी लय में दिख रही है | लगातार सभी सीरिज जीतती आ रही है | रोहित शर्मा, जिन्होंने पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम मोहाली में टेस्ट में पहली बार भारत की कप्तानी की, भारत की पहली पारी को 8 विकेट पर 574 रन पर घोषित करने के इस चौंकाने वाले फैसले के बाद कई फैंस नाखुश थे |

और उनका मानना था कि रोहित शर्मा और राहुल द्रविड़ की वजह से ही जडेजा अपना पहला दोहरा शतक लगाने का सुनहरा मौका को पूरी नहीं कर पाए। लेकिन रोहित ने इस फैसले पर फटकार लगाई, आईए जानते हैं उन्होंने क्या कहा इस फैसले को ले कर।

यह भी पढ़ें  बिहार के क्रिकेटर सकीबुल गनी ने रणजी डेब्यू में ट्रिपल सेंचुरी जड़ बनाया रिकॉर्ड, माँ का सपना हुआ पूरा

दरसअल, कप्तान रोहित ने कहा की जब जडेजा की 175 रन पर थे और मैंने भारत को पारी की घोषणा की तो ये फैसला ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा ही था। उन्होंने भारतीय प्रबंधन को सुझाव दिया था कि भारत को पारी की घोषणा करनी चाहिए और मैच के दूसरे दिन थके हुए श्रीलंकाई खिलाडी को बल्लेबाजी करनी चाहिए।

हालाँकि, इसे ले कर जडेजा ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद कहा था की, “मैंने टीम को पारी की घोषणा के लिए कहा था क्योंकि श्रीलंका के खिलाड़ी पहले ही थक चुके थे और उन्हें आउट करने का ये हमारे पास अच्छा मौका था।” उन्होंने ये भी कहा था की, पिच पर ‘बाउंस’ था और गेंद टर्न भी कर रही थी। इसलिए मैंने टीम मैनेजमेंट को सुझाव दिया था कि भारत को पारी की घोषणा करनी चाहिए।