पटना वाले खान सर को मिल रहा था 107 करोड़ की ऑफर लेकिन ठुकराकर उन्होंने ने चुनी गरीब बच्चों को शिक्षा देना

खान सर को सिर्फ बिहार up ही नहीं जानते है बल्कि भारत के कोने-कोने के लोग खान सर को जानते है और अपना आदर्श मानते है जी हाँ दोस्तों आपको बता दे कि खान सर जो विडियो सोशल मीडिया प्लेटफार्म youtube फेसबुक पर डालते है तो उसे करोड़ो लोग देखता है | सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि विदेश के लोग भी खान सर को बहुत पसंद करते हियो | सभी बच्चो को खान सर के विडियो का बहुत बेसब्री से इंतजार रहता है |

कौन है खान सर?

उत्तरप्रदेश के मध्यमवर्गीय परिवार से आते है खान सर खान सर का पूरा नाम फैज़ल खान है | इनके पिताजी बोर्डर पर देश की सेवा करते है सेना में है | इतना ही नहीं खान सर के बड़े भैया भी भारतीय सेना में है कमांडो के पद पर इसलिए खान सर का भी सपना था की हम भी सेना ज्वाइन करके देश की सेवा करे बता दे की खान सर अपने इंटरव्यू के दौरान बताये थे की हमने nda की परीक्षा भी निकल ली थी लेकिन मेरा हाथ टेढ़ा होने की वजह से मुझे चयन नहीं हो पाया |

यह भी पढ़ें  राहत : सरसों तेल के दाम हुए 40 रुपये कम, तुरंत करें खरीदारी, जानिए क्या है ताजा भाव ?

खान सर का जब भारतीय सेना में सलेक्सन नहीं हुआ तो उन्होंने गरीब बच्चो को शिक्षित बनाने का निर्णय लिया | और राजधानी पटना आये जब खान सर पटना आये तो उन्होंने बहुत कम फीस में ही सभी बच्चो को शिक्षा देने लगे और अपने देसी अंदाज़ में पढ़ाने की तरीका सभी बच्चों को अच्छा लगने लगा | और धीरे -धीरे बच्चो की संख्या दोगुनी चौगुनी होने लगी और आज इतना हो गया की खान सर के ऑफलाइन क्लास में सभी बच्चों को जगह के कारण पढने का मौका नहीं मिल पाता है |

ऑफलाइन के अलावा खान सर पढ़ाते है ऑनलाइन भी बता दे की खान सर ने साल 2019 में youtube पर अपना एक चैनल खोले जिसका नाम उन्होंने रखा खान जीएस रिसर्च सेंटर इस चैनल से अभी लाखों लोग जुड़े है | और शिक्षा लेते है | इतना ही नहीं खान सर अनाथालय भी चलाते है जिन बच्चो का कोई नहीं वो बच्चो को खान सर के अनाथालय के माध्यम से खाना, कपड़ा और मुफ्त में शिक्षा दी जाती है | हमें खान सर जैसे महान शिक्षक पर गर्व है खान सर एक विचार धरा बनकर हमारे समाज को प्रेरित कर रहें है |

यह भी पढ़ें  बिहार बोर्ड : पढ़ाई में लड़कों की तुलना में तेजी से बढ़ी बेटियों की संख्या, जानें क्या कहते हैं आंकड़ें