बिहार बोर्ड : सामाजिक विज्ञान की परीक्षा में भी 19 परीक्षार्थी रहे अनुपस्थित और एक बच्चे हुए निष्काषित

बिहार में इंटर की परीक्षा संपन्न होने के बाद 17 फरवरी से मैट्रिक की परीक्षा शुरू हो गयी है जो 23 तक चलेगी बता दे कि परीक्षा के पहले दिन गणित का पेपर था जिसको लेकर खूब बबाल हुआ था मोतिहारी में की इसका क्वेश्चन पहले से वायरल है हलांकि इसकी पुष्टि मोतिहारी के dm ने कर दी है लेकिन परीक्षा कैंसिल होने को लेकर कोई जानकारी नहीं दी गई है |

बता दे की मैट्रिक परीक्षा के तीसरे दिन शनिवार को दोनों पालियों में सामाजिक विज्ञान की परीक्षा ली गई। दोनों पालियों की परीक्षा में कुल 631 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे, जबकि 27124 परीक्षा में शामिल हुए। कदाचार के आरोप में पहली पाली में टीआर नारायण स्कूल से एक परीक्षार्थी को निष्कासित किया। इस प्रकार तीन दिनों की परीक्षा में अब तक 14 परीक्षार्थी निष्कासित हो चुके हैं।

यह भी पढ़ें  बिहारी मिस्त्री ने किया कमाल कमा रहा नाम मात्र एक धुर में बना दिया पांचतल्ला मकान

कदाचारमुक्त परीक्षा को लेकर वरीय पदाधिकारियों का भ्रमण परीक्षा केंद्रों पर होता रहा। इसके पहले जिले से सभी 30 परीक्षा केंद्रों पर जांच के बाद परीक्षार्थियों को प्रवेश दिया गया। साथ ही कोरोना से बचाव को लेकर हाथ सैनिटाइज कराया जा रहा था। शिक्षा विभाग की रिपोर्ट के अनुसार पहली पाली में कुल 13840 परीक्षार्थी में 13505 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए जबकि 335 अनुपस्थित रहे। दूसरी पाली में कुल 13915 परीक्षार्थी में 13619 परीक्षा में शामिल हुए जबकि 296 अनुपस्थित रहे। परीक्षा के कारण दोपहर में जमुई बाजार के सड़कों पर भीड़ लगी रही।

परीक्षा की प्रथम पाली में शामिल होने वाले 362 परीक्षार्थीयों में 9 तथा दूसरी पाली में शामिल होने वाले 374 परीक्षार्थियों में 10 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। परीक्षा शुरू होने से पूर्व ही परीक्षा केंद्र पर स्टैटिक दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी के रूप में बीपीआरओ सतीश कुमार, एसआई ओमप्रकाश सिंह, विजय यादव पूरी पारदर्शिता के साथ डटे रहे। गश्ती दल में शामिल बीडीओ विनय कुमार की आवजाही बनी रही।

यह भी पढ़ें  अच्छी खबर : अब नहीं फैलेगा पटना में प्रदुषण नहीं चलेगा डीजल से चलने वाला एक भी बस या ऑटो